फिक्सिंग पर आसिफ की माफी | खेल | DW | 14.08.2013
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

फिक्सिंग पर आसिफ की माफी

पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद आसिफ ने 2010 के कुख्यात स्पॉट फिक्सिंग कांड में अपनी भूमिका के लिए पहली बार बुधवार को माफी मांगी. आसिफ ने पांच साल के प्रतिबंध की सजा भी स्वीकार की.

दोषी करार दिए गए तीन खिलाड़ियों में शामिल पाकिस्तान के पूर्व टेस्ट कप्तान सलमान बट और युवा तेज गेंदबाज मोहम्मद आमेर पहले ही अपनी गलती मान कर माफी मांग चुके हैं. उन्होंने वापस टीम में शामिल होने की इच्छा जताई है, अब मोहम्मद आसिफ भी इसमें शामिल हो गए हैं. 2010 में लॉर्ड्स के मैदान पर इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच में आसिफ, आमेर और बट को स्पॉट फिक्सिंग का दोषी पाया गया. तीनों ने सटोरियों के इशारों पर तय समय पर जानबूझ कर नो बॉल फेंकी.

एक साल बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद, आईसीसी की भ्रष्टाचार निरोधी ट्रिब्यूनल ने सलमान बट पर 10 साल की पाबंदी लगाई, इसी तरह आसिफ पर सात और आमेर पर पांच साल की पाबंदी की सजा सुनाई. इनमें बट के लिए पांच साल, आसिफ के लिए दो साल की सजा निलंबित रखने का प्रावधान रखा लेकिन इसमें जरूरी शर्त यह जोड़ दी कि खिलाड़ी अपना जुर्म कबूल करें, माफी मांगें और दोबारा टीम में शामिल हों.

Pakistan Cricket Mohammad Asif Korruption

बुधवार को कराची की एक प्रेंस कांफ्रेंस में मोहम्मद आसिफ ने कहा, "मैं 2011 में आईसीसी ट्रिब्यूनल से मिली सजा को स्वीकार करता हूं. मैं अपनी हरकतों के लिए माफी मांगता हूं जिससे मेरे प्रिय देश की इज्जत गई, पाकिस्तान और दुनिया के करोड़ों क्रिकेट प्रेमियों को तकलीफ हुई." इन तीनों खिलाड़ियों और उनके एजेंट मजहर मजीद को ब्रिटेन की कोर्ट ने इस मामले में जेल भी भेजा. पिछले साल ही इन खिलाड़ियों की रिहाई हुई.

सर्वकालीन महान गेंदबाजों में शुमार पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इमरान खान ने कभी आसिफ को दुनिया का बेहतरीन नया गेंदबाज माना था. 2006 में करियर की शुरूआत के दौरान ही शोएब अख्तर के साथ स्टेरॉयड का सेवन करते पकड़े जाने पर उनका करियर लड़खड़ा गया. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने तो उन्हें छोड़ दिया लेकिन 2008 में डोपिंग में पकड़े जाने के बाद उन पर एक साल का प्रतिबंध लग गया. आईपीएल 2008 से लौटते वक्त दुबई एयरपोर्ट पर आसिफ को प्रतिबंधित दवा के साथ भी पकड़ा गया.

Kombo Pakistan Cricket Korruption Salman Butt Mohammad Asif und Mohammad Amir

आसिफ ने अपनी लगातार गलतियों पर अफसोस जताया और नए खिलाडियों को फिक्सिंग के गड्ढे से दूर रहने के लिए भी कहा, "जब मैं अपने करियर की घटनाओं की तरफ देखता हूं तो मुझे बहुत दुख होता है. देश के लिए खेलने की इच्छा रखने वाले सभी खिलाड़ियों से मैं अनुरोध करता हूं कि वो हर तरह के भ्रष्टाचार से दूर रहें." आसिफ ने इसमें मदद करने की भी बात कही, "मैं हर उस खिलाड़ी की मदद करने के तैयार हूं जो इस तरह की दिक्कत से बचना चाहते हैं. मैं आईसीसी, इसकी भ्रष्टाचार निरोधक शाखा और पीसीबी के साथ खेल में भ्रष्टाचार से लड़ने के लिए पूरा सहयोग करूंगा."

प्रतिबंध लगने से पहले मोहम्मद आसिफ ने 23 टेस्ट मैचों में 106 विकेट लिए थे और नई गेंद के साथ शानदार प्रदर्शन करने वाले गेंदबाजों में गिने जाते थे. आसिफ ने पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस के मौके पर अपनी गलतियों से हुए नुकसान की भरपाई की कोशिश का वादा किया.

एनआर/ओएसजे (एएफपी)

DW.COM