फिक्सिंग के साये में वनडे सीरीज खत्म | खेल | DW | 23.09.2010
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

फिक्सिंग के साये में वनडे सीरीज खत्म

इंग्लैंड क्रिकेट टीम के कप्तान एंड्रयू स्ट्रॉस ने आईसीसी से कहा है कि वह स्पॉट फिक्सिंग के आरोपों की तह तक जाए. इग्लैंड ने बुधवार को पाकिस्तान से वनडे सीरीज तो 3-2 से जीत ली, लेकिन फिक्सिंग का साया बराबर बना रहा.

default

एंड्रयू स्ट्रॉस

इंग्लैंड ने वनडे सीरीज के पांचवें और आखिरी मैच में पाकिस्तान को 121 रन से करारी शिकस्त दी. लेकिन पाकिस्तानी टीम का यह इंग्लैंड दौरा हार जीत के लिए नहीं बल्कि फिक्सिंग के आरोपों के लिए याद किया जाएगा. मैच के बाद स्ट्रॉस ने कहा कि जिस तरह का माहौल बन गया है, उसमें किसी का भी मन क्रिकेट खेलने का नहीं होगा. पाकिस्तान 2-3 से यह सीरीज हारा है. उसने लगातार दो मैच हारने के बाद सीरीज में वापसी की.

बुधवार के मैच में इंग्लैंड के इयॉन मॉर्गन को मैन ऑफ द मैच चुना गया. उन्होंने नाबाद 107 रन बनाए. इंग्लैंड की टीम ने इस मैच में छह विकेट खोकर 256 रन का स्कोर खड़ा किया. लेकिन पाकिस्तान की टीम 135 रन पर ढेर हो गई. अभी 13 ओवर का खेल बाकी बचा था.

इस वनडे सीरीज से पहले टेस्ट सीरीज के दौरान एक ब्रिटिश अख़बार ने स्टिंग ऑपरेशन के जरिए तीन पाकिस्तानी क्रिकेटरों को स्पॉट फिक्सिंग में शामिल बताया. इन्हीं आरोपों के चलते सलमान बट, मोहम्मद आसिफ और मोहम्मद आमेर को आईसीसी पहले ही निलंबित कर चुकी है. इसके अलावा इंग्लैंड की टीम पिछले हफ्ते उस वक्त सकते में आ गई जब ओवल में खेले गए तीसरे में मैच हार के बाद उस पर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष एजाज बट ने फिक्सिंग का संदेह जाहिर कर दिया.

स्ट्रॉस कहते हैं, "आईसीसी को क्रिकेट में भ्रष्टाचार के इन आरोपों की जांच में कोई कोर कसर नहीं छोड़नी चाहिए. हम नहीं चाहते कि भविष्य में फिर ऐसा हो. इसीलिए जरूरी है कि आईसीसी इस मामले की पूरी तरह पड़ताल करे."

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः वी कुमार

DW.COM

WWW-Links

विज्ञापन