पोकेमॉन खेलने वाले पापा की तीन महीने की जेल | मनोरंजन | DW | 26.09.2018
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

पोकेमॉन खेलने वाले पापा की तीन महीने की जेल

फ्रांस की राजधानी पेरिस में एक बहुमंजिला इमारत पर लटके बच्चे को एक व्यक्ति ने स्पाइडरमैन जैसी तेजी और जोश दिखाकर बचा लिया था. अब इस बच्चे के पिता को अदालत ने दोषी माना है.

कुछ महीने पहले फ्रांस में एक शरणार्थी ने "स्पाइडरमैन" की तरह तेजी दिखाकर पेरिस की एक बहुमंजिला इमारत की पांचवी मंजिल पर लटके हुए बच्चे को बचा लिया था. बच्चा पांचवीं मंजिल की बालकनी से लटका हुआ था. उसे दरवाजा खोलकर नहीं बचाया जा सकता था क्योंकि अपार्टमेंट लॉक किया गया था. अब पेरिस की एक अदालत ने इस मामले में बच्चे के पिता को लापरवाही का दोषी माना है. दोषी पिता को तीन महीने की जेल की सजा सुनाई है साथ ही परवरिश को सीखने के लिए पेरंटिंग क्लास जाने के भी आदेश दिए हैं.

पिता पर आरोप था कि वह अपने चार साल के बच्चे को बालकनी में छोड़कर चला गया था, जिसके बाद बच्चा लटका मिला. बच्चे को बचाने वाले 22 वर्षीय नौजवान था फ्रांस में अफ्रीकी मूल का मामोदू गसामा. गसामा की इस बहादुरी के चलते बतौर इनाम फ्रांस की नागरिकता दी गई. साथ ही फायर ब्रिग्रेड कार्यों में नौकरी भी मिल गई.

गसामा को स्वयं फ्रांस के राष्ट्रपति इमानुएल माक्रों ने धन्यवाद कहा था. बच्चे के पिता ने कोर्ट को बताया कि घटना वाले दिन वह अपने बच्चे को टीवी देखता हुए छोड़ कर बाजार से सामान लाने गया था. लेकिन बच्चे को घर पर छोड़ते वक्त उसके दिमाग में बालकनी के दरवाजे को लॉक ख्याल नहीं आया. पिता ने यह भी माना कि वह अपने पसंदीदा स्मार्टफोन गेम पोकेमॉन गो खेलने लगा, जिसके चलते उसे ज्यादा समय लग गया.

बच्चे ने पुलिस को बताया कि वह बालकनी में इसलिए गया क्योंकि उसे अपने पिता बहुत देर से नहीं दिखे थे. घटना के एक दिन पहले बच्चा अपने पिता के साथ डिज्नीलैंड गया था, तो बच्चे को लगा कि उसके पिता उसे छोड़कर फिर से डिज्नीलैंड चले गए हैं.

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन