पुर्तगाल के गुटेरेश का यूएन महासचिव बनना तय | दुनिया | DW | 06.10.2016
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

पुर्तगाल के गुटेरेश का यूएन महासचिव बनना तय

संयुक्त राष्ट्र में रूस के राजदूत विताली चुरकिन ने कहा है कि सुरक्षा परिषद ने एकराय से संयुक्त राष्ट्र के अगले महासचिव का नाम तय कर दिया है. पुर्तगाल के पूर्व प्रधानमंत्री एंटोनियो गुटेरेश बान की मून का स्थान लेंगे.

सुरक्षा परिषद गुरुवार को गुटेरेश के नाम की औपचारिक तौर पर घोषणा करेगी. इससे पहले वो संयुक्त राष्ट्र की शरणार्थी एजेंसी के प्रमुख रह चुके हैं. रूसी राजदूत ने बुधवार को न्यूयॉर्क में कहा, "आज, छठे मतदान के बाद हमारे पास निश्चित रूप से एक पसंदीदा उम्मीदवार है और उनका नाम है एंटोनियो गुरेटेश.”

इस अनौपचारिक मतदान के दौरान गुटेरेश को 13 लोगों ने अपना ‘पसंदीदा' उम्मीदवार बताया जबकि किसी को उनकी उम्मीदवारी पर ‘एतराज' नहीं था. उनके नाम पर ‘कोई राय नहीं' वाले दो वोट पड़े. अगर 15 सदस्यों वाली संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के पांच स्थायी सदस्यों अमेरिका, चीन, फ्रांस, ब्रिटेन और रूस में से कोई एक भी गुटेरेश के लिए एतराज वोट का इस्तेमाल करता तो उनकी उम्मीदवार खतरे में पड़ सकती थी.

गुटेरेश के नाम की घोषणा के कुछ देर बाद संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी राजदूत समांथा पावर ने कहा कि गुटेरेश के नाम की सिफारिश करने के फैसले पर सुरक्षा परिषद में एकजुटता है. वैसे इस बार 50 देश पहली बार संयुक्त राष्ट्र की महासचिव किसी महिला को बनाए जाने के लिए अभियान चला रहे थे. संयुक्त राष्ट्र महासचिव के पद पर दुनिया के विभिन्न इलाकों से व्यक्तियों को चुना जाता है. बान की मून दक्षिण कोरिया से हैं और इस बार माना जा रहा है कि बारी यूरोप की है. संयुक्त राष्ट्र महासचिव के रूप में बान की मून का दूसरा कार्यकाल 31 दिसंबर को खत्म हो रहा है.

एके/वीके (एएफपी, एपी, रॉयटर्स)

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन