पाकिस्तान में चार हिंदू डॉक्टरों की हत्या | दुनिया | DW | 08.11.2011
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

दुनिया

पाकिस्तान में चार हिंदू डॉक्टरों की हत्या

पाकिस्तान के दक्षिणी सिंध प्रांत में बंदूकधारियों ने चार हिंदू डॉक्टरों की हत्या कर दी है जिसके बाद अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय में दहशत है. यह घटना सोमवार को प्रांतीय राजधानी कराची से 400 किलोमीटर दूर चक कस्बे में हुई.

पाकिस्तान में अल्पसंख्यक हिंदू भेदभाव के शिकार हैं

पाकिस्तान में अल्पसंख्यक हिंदू भेदभाव के शिकार हैं

प्रांतीय असेंबली के पूर्व सदस्य और पाकिस्तान हिंदू परिषद के संरक्षक डॉक्टर रमेश कुमार ने पुष्टि की है कि डॉक्टर अशोक, डॉक्टर नरेश, डॉक्टर अजीत और डॉक्टर सत्य पॉल की हथियारबंद लोगों ने हत्या कर दी है. वारदात के वक्त ये डॉक्टर अपने क्लीनिक पर काम कर रहे थे.

डॉक्टर कुमार ने पीटीआई को बताया, "यह पहला मौका नहीं है जब इस तरह हमारे समुदाय के लोगों को निशाना बनाने की घटना हुई है. चिंता वाली बात तो यह है कि कानून लागू करने वाली एजेंसियां ऐसे अपराधों में लिप्त लोगों का साथ देती हैं."

पुलिस का कहना है कि इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है. बाकी लोगों की धरपकड़ के लिए तलाशी अभियान चल रहा है. डॉ. कुमार कहते हैं, "चक में हिंदू की 50,000 की बड़ी आबादी है, तो वहां ऐसी घटना का होना गलत है. सरकार को इसका नोटिस लेना चाहिए और अल्पसंख्यकों को सुरक्षा दी जानी चाहिए."

Flash-Galerie Indien Lichtfest Diwali

देश की कुल 17.5 करोड़ की आबादी में हिंदुओं की संख्या दो प्रतिशत से भी कम है

निशाने पर अल्पसंख्यक

कुमार के मुताबिक इस झगड़े की शुरुआत उस वक्त हुई जब हिंदू लड़के एक नाचने वाली मुस्लिम लड़की को अपने इलाके में ले आए. "जिस घर में लड़की नाच रही थी, पुलिस ने वहां छापा मारा और चार लड़कों को गिरफ्तार कर लिया." उन्होंने कहा कि ईद की छुट्टियों के बाद इस मामले को शांति पूर्ण तरीके से सुझलाने के लिए स्थानीय बुजुर्गों की पंचायत में ले जाया जाना था लेकिन उससे पहले ही ये हत्याएं हो गईं.

डॉक्टरों की हत्या की निंदा करते हुए पाकिस्तान हिंदू परिषद ने राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी, चीफ जस्टिस इफ्तिखार चौधरी और सेना प्रमुख अश्फाक कयानी से अपील की है कि सिंध के अलग अलग हिस्सों में हिंदुओं पर हो रहे हमलों को रोका जाए. पाकिस्तान की 17.5 करोड़ की आबादी में हिंदुओं की संख्या दो प्रतिशत से भी कम है. पाकिस्तान की 95 फीसदी आबादी मुसलमानों की है. वहां हिंदुओं के अलावा अल्पसंख्यक ईसाई समुदाय के खिलाफ हमले और भेदभाव की खबरें अकसर आती रहती हैं.

रिपोर्टः पीटीआई, एएफपी/ए कुमार

संपादनः ओ सिंह

DW.COM

WWW-Links

संबंधित सामग्री

विज्ञापन