पहली बार मैराथन दौड़ने के कई लाभ | विज्ञान | DW | 08.01.2020
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

विज्ञान

पहली बार मैराथन दौड़ने के कई लाभ

नए साल पर लोग स्वास्थ्य को लेकर कई संकल्प लेते हैं, लोग फिटनेस और स्वास्थ्य को लेकर प्रण करते हैं कि कई कदम उठाएंगे. अब एक शोध के मुताबिक लोग अगर पहली बार भी मैराथन दौड़ते हैं तो उनकी सेहत के लिए यह फायदेमंद हो सकता है.

पहली बार मैराथन दौड़ने वाले अपने जीवन में कुछ साल और जोड़ सकते हैं, साथ ही वह लोअर ब्ल्ड प्रेशर और सेहतमंद धमनियों के रूप में इनाम पा सकते हैं, ऐसा दावा एक शोध में किया गया है. शोध के मुताबिक भले ही वह इस चुनौती को जीवन के मध्य पड़ाव में लें, लाभ मिलना संभव है.

इस अध्ययन की सह लेखक और बार्ट्स हार्ट सेंटर एंड यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन की डॉक्टर शार्लोट मनिस्टी के मुताबिक, "ऐसा प्रतीत होता है कि ऐसा करने में कभी देर नहीं हुई है." मैराथन पर किए शोध बताता है कि सबसे बड़ा स्वास्थ्य लाभ सुस्त और उम्रदराज लोगों में दिखा और ट्रेनिंग की शुरुआत के पहले उन्होंने बताया कि वे उच्च रक्त चाप के पीड़ित हैं.

हालांकि शोधकर्ताओं का कहना है कि यह साफ नहीं है कि उन्हें क्यों सबसे ज्यादा लाभ हुआ. यह शोध अमेरिकन कॉलेज ऑफ कार्डियोलॉजी में छपा है, शोधकर्ताओं ने लंदन मैराथन 2016 और 2017 में पहली बार दौड़ने वाले 138 धावकों पर शोध किया. औसतन नए धावक 37 वर्ष के थे और 49 प्रतिशत पुरुष थे, शोध शुरू होने के पहले यह सभी हफ्ते में दो घंटे से अधिक नहीं दौड़ते थे. अध्ययन के अंत में महिलाओं के लिए 5.4 घंटे और पुरुषों के लिए 4.5 घंटे औसत मैराथन रनिंग टाइम था.

वैज्ञानिकों ने प्रशिक्षण से पहले प्रतिभागियों की जांच की और 42 किलोमीटर सफलतापूर्वक मैराथन दौड़ के बाद भी जांच की यह देखने के लिए क्या धमनियों का सख्त होना प्रभावित हुआ है. उम्र बढ़ने के साथ धमनियों का सख्त होना सामान्य प्रक्रिया है. यह हृदय रोगों जैसे स्ट्रोक, दिल का दौरा और गुर्दों से जुड़ी बीमारी के जोखिम को बढ़ाता है. अध्ययन में शामिल लोगों में औसतन पहली बार मैराथन दौड़ने वालों की धमनियां सिकुड़ी नहीं पाई गई. यह उनकी 'धमनी आयु' में चार साल की कमी के बराबर है.

45. Berlin-Marathon (Getty Images/Bongarts/M. Hitji)

शोध के मुताबिक कसरत से रक्त चाप कम होता है.

शोध के नतीजे के बाद मनिस्टी का कहना है, "सिर्फ 6 महीने के व्यायाम के साथ हमारी रक्त वाहिकाओं पर उम्र बढ़ने के परिणामों को उल्टा करना संभव है." मनिस्टी कहती हैं, "ये वे लोग नहीं थे जो चरम स्तर का व्यायाम या अत्यधिक मात्रा में वजन कम कर कर रहे थे. वे मध्यम प्रशिक्षण कर रहे थे और वास्तविक दौड़ लक्ष्य हासिल कर रहे थे." ब्रिटिश हार्ट फाउंडेशन चैरिटी, जिसने अनुसंधान के लिए वित्त सहायता दी है, उसके निदेशक मेतिन अवकिरन ने एक बयान में कहा कि शोध के नतीजों ने व्यायाम के "निर्विवाद" लाभों को दिखाया है.

कसरत और दौड़ को लेकर पहले भी कई शोध हुए हैं उनमें भी इन्हें सेहत के लिए लाभदायक बताया गया है. कुछ साल पहले हुए एक शोध से पता चला था कि गर्मियों के दिनों में ताजा हवा में कसरत से मिजाज बेहतर करने में मदद मिलती है. वहीं कुछ पर्सनल ट्रेनर सुझाव देते हैं कि जो लोग आउटडोर गतिविधि शुरू कर रहे हैं उन्हें पहले बस पैदल चलना चाहिए और फिर धीरे-धीरे गति बढ़ानी चाहिए. 

एए/ओएसजे (रॉयटर्स)

_______________

हमसे जुड़ें: WhatsApp | Facebook | Twitter | YouTube | GooglePlay | AppStore

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन