परीक्षाओं के चलते विमानों ने बदला रुख | दुनिया | DW | 20.06.2018
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

दुनिया

परीक्षाओं के चलते विमानों ने बदला रुख

स्कूल में परीक्षा का समय छात्रों के लिए तनाव भरा होता है. कई मामलों मे असर मां-बाप पर भी दिखने लगता है. लेकिन एक देश ऐसा भी है जहां बच्चों की इन परीक्षाओं के चलते लड़ाकू विमानों के उड़ने का समय ही बदल दिया गया है.

छात्रों की परीक्षा में कोई खलल न पड़े इसलिए फ्रांस के फाइटर जेट राफाल विमानों का शेड्यूल ही बदल दिया गया है. अब यह विमान फ्रांस के आकाश पर कुछ खास समयावाधि में ही नजर आएंगे. यहां के एक मिलिट्री बेस पर तैनात कमांडर ने समाचार एजेंसी एएफपी से कहा, "छात्रों का ध्यान न भटके इसलिए इस तरह के बदलाव किए गए हैं."

कमांडर सैड्री ग्वाडिलिय ने कहा, "फ्रांस के दक्षिणपश्चिमी हिस्से में स्थित बेस में टेक-ऑफ और लैंडिंग के समय को बदला गया है, ताकि आसपास के इलाके में परीक्षा की तैयारी में जुटे करीब 3773 छात्रों को परेशानी न हो."

नाती पोतों की मदद से 91 की उम्र में ग्रेजुएट हुई महिला

उन्होंने बताया कि देश के अन्य सैन्य बेसों पर भी यह नए बदलाव लागू किए जाएंगे. देश में एक हफ्ते तक परीक्षाएं चलनी हैं. राफाल फ्रांस के हवाई सैन्यबल का गौरव माना जाता है. फ्रांस ने भारत समेत मिस्र, कतर को भी कई राफाल जेट बेचे हैं. फ्रेंच ताकतों ने राफाल फाइटर जेट का इस्तेमाल अफगानिस्तान, लीबिया, पश्चिमी अफ्रीका में किया है. हाल में फ्रांस ने इसका इस्तेमाल सीरिया में किया था.

एए/ओएसजे (एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन