परफ्यूम से बाघिन को रिझाने की तैयारी | दुनिया | DW | 12.10.2018
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

परफ्यूम से बाघिन को रिझाने की तैयारी

महाराष्ट्र में आवनी नाम की एक बाघिन ने रेंजरों की नाक में दम कर रखा है. इसे पकड़ने के लिए अब अधिकारी और रेंजर केल्विन क्लाइन ब्रांड के परफ्यूम को इस्तेमाल करने की योजना बना रहे हैं.

रेंजर अब तक आवनी नाम की बाघिन को पकड़ने के लिए कई सर्च टीम बना चुके हैं, कैमरों का जाल बिछा चुके हैं, यहां तक कि हाथी भी छोड़ चुके हैं लेकिन इसे पकड़ने की सारी योजनाएं अब तक नाकाम रहीं हैं. इसके बाद अब अधिकारी केल्विन क्लाइन ब्रांड के परफ्यूम से बाघिन को रिझाने पर विचार कर रहे हैं. इस बाघिन पर 13 लोगों की जान लेने का संदेह है.

वन अधिकारी एके मिश्रा ने बताया, "हमें सुझाव मिला कि केल्विन क्लाइन परफ्यूम की सुगंध से हम बाघिन को अपनी ओर आकर्षित कर सकते हैं. इसलिए हमारे अधिकारी ने इसे खरीद लिया." उन्होंने कहा, "इसे एक प्रयोग की तरह लिया जा सकता है लेकिन अब तक इस पर कोई फैसला नहीं लिया गया है."

2013 में अमेरिकी वैज्ञानिकों ने पाया कि केल्विन क्लाइन का पुरुषों के लिए आने वाला परफ्यूम "ऑब्सेशन" बाघिन को अपनी ओर आकर्षित करता है. स्थानीय मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक तमिलनाडु में पहले भी एक बाघिन को पकड़ने के लिए परफ्यूम का सफल इस्तेमाल किया जा चुका है.

आवनी की खोज सितंबर 2017 से की जा रही है. 2017 में उसने एक गांव के पांच लोगों को मार दिया था. हाल ही में उच्चतम न्यायालय ने इस मामले में दखल देने से इनकार करते हुए पशु कार्यकर्ताओं की अपील खारिज कर दी थी. अपनी अपील में पशु कार्यकर्ताओं ने अदालत से बाघिन को मारने पर रोक लगाने की अपील की थी. 

आमतौर पर बाघिन इंसानों को नहीं मारती है. हालांकि अब कुछ विशेषज्ञ मान रहे हैं कि बाघिन इंसान के मांस को लेकर अपना स्वाद विकसित कर सकती है. भारत में दुनिया के आधे से अधिक बाघ बसते हैं. साल 2014 के आंकड़ों के मुताबिक भारत में करीब 2,226 बाघ हैं.

  

एए/एनआर (एएफपी)

DW.COM

विज्ञापन