न्यूजीलैंड में ज्वालामुखी विस्फोट | दुनिया | DW | 09.12.2019
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

दुनिया

न्यूजीलैंड में ज्वालामुखी विस्फोट

न्यूजीलैंड के नॉर्थ आइलैंड के पूर्वी तट पर मौजूद एक द्वीप व्हाइट आइलैंड में ज्वालामुखी फटने से कम से कम एक व्यक्ति की मौत हो गई. इसके अलावा कई अन्य लोग घायल और लापता हैं.

ज्वालामुखी फटने के बाद व्हाइट आइलैंड पर मौजूद 23 लोगों को सुरक्षित बचा लिया गया है, इनमें से ज्यादातर सैलानी हैं. ज्वालामुखी विस्फोट स्थानीय समय के मुताबिक दोपहर 2 बजे हुआ. इस विस्फोट के कारण हजारों फीट ऊपर तक धुएं और राख का गुबार फैल गया है. इससे पहले करीब 100 लोगों के वहां मौजूद होने की आशंका थी.

सैन फ्रांसिस्को के मिषाएल शाडे उन सैलानियों में एक हैं जो द्वीप पर विस्फोट होने के कुछ मिनट पहले वहां से रवाना हुए थे. उन्होंने अपने बोट से बहुत नाटकीय वीडियो फुटेज पोस्ट किया है. इस वीडियो में क्रेटर से निकलते धुएं को पहले शीर्ष और फिर पूरे द्वीप को अपनी चपेट में लेते देखा जा सकता है.  शाडे ने कहा, "यह यकीन करना मुश्किल है. हमारा पूरा ग्रुप मुख्य क्रेटर के किनारे महज 30 मिनट पहले तक मौजूद था."

यह द्वीप नॉर्थ आइलैंड के पूर्वी किनारे से करीब 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है और इसे नॉर्थ आइलैंड से देखा जा सकता है. व्हाइट लैंड ज्वालामुखी न्यूजीलैंड के सबसे सक्रिय ज्वालामुखियों में से एक है.

ज्वालामुखी विज्ञानियों का कहना है कि विस्फोट के कारण राख हवा में करीब 12000 फीट की ऊंचाई तक फैल गई है. न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जसिंदा आर्डर्न ने कहा है, "हम जानते हैं कि उस वक्त द्वीप के आसपास बहुत सारे सैलानी मौजूद थे जिनमें न्यूजीलैंड और बाहर के लोग भी शामिल हैं. मैं जानती हूं कि जिनके प्रियजन द्वीप के आसपास मौजूद थे, उन्हें बहुत चिंता और परेशानी हो रही होगी. मैं उन्हें आश्वस्त कर सकती हूं कि पुलिस वो सब कर रही है, जो कर सकती है."

न्यूजीलैंड क्रूज एसोसिएशन के चीफ एग्जिक्यूटिव केविन ओ सुलिवैन का कहना है, "हम मानते हैं कि ओवेशन ऑफ सीज की एक टूर पार्टी व्हाइट आइलैंड पर हुए विस्फोट की चपेट में आई है. हमारे पास इस वक्त इससे ज्यादा जानकारी नहीं है."

ओवेशन ऑफ द सीज एक 16 डेक वाला क्रूज शिप है. इस पर करीब 5000 यात्री और चालक दल के 1500 सदस्य यात्रा कर सकते हैं. फिलहाल यह नॉर्थ आइलैंड के ताउरंगा पर खड़ा है. यह 3 दिसंबर को सिडनी के लिए रवाना हुआ था. कंपनी के एक प्रतिनिधि ने ईमेल से जारी बयान में कहा है, "हम इस बात की पुष्टि कर सकते हैं कि हमारे कई मेहमान द्वीप की यात्रा पर थे लेकिन इससे अधिक जानकारी फिलहाल हमारे पास नहीं है."

घायल हुए लोगों में कम से कम एक शख्स की स्थिति गंभीर है. इलाके को नो फ्लाइ जोन घोषित कर दिया गया है. तटवर्ती शहर व्हाकाटेन की मेयर जूडी टर्नर का कहना है, "मुझे ठीक ठीक नहीं पता कि द्वीप पर और उसके आस पास कितने लोग हैं लेकिन निश्चित रूप से एक ग्रुप वहां मौजूद था और उन्हें तत्काल मेडिकल केयर की जरुरत है." इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि तटवर्ती इलाके में दूरी पर मौजूद इलाके में लोगों को कोई खतरा नहीं है. न्यूजीलैंड की नेशनल इमरजेंसी मैनेजमेंट का कहना है कि द्वीप के आस पास का इलाका इस ज्वालामुखी विस्फोट के कारण खतरनाक है. राख के फैलने से कुछ इलाकों पर असर हो सकता है.

एनआर/आरपी(रॉयटर्स)

______________

हमसे जुड़ें: WhatsApp | Facebook | Twitter | YouTube | GooglePlay | 

DW.COM

इससे जुड़े ऑडियो, वीडियो

संबंधित सामग्री

विज्ञापन