′नेपाल के मामलों में भारत का दख़ल नहीं′ | ताना बाना | DW | 20.01.2010
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

ताना बाना

'नेपाल के मामलों में भारत का दख़ल नहीं'

नेपाल के प्रधानमंत्री माधव कुमार नेपाल ने कहा है कि भारत नेपाल के मामलों में दख़लअंदाज़ी नहीं कर रहा है और माओवादी नेता प्रचंड के ये आरोप बेबुनियाद हैं. उधर भारतीय सेना प्रमुख जनरल दीपक कपूर चार दिन के दौरे पहुंचे हैं.

default

प्रधानमंत्री माधव कुमार नेपाल ने प्रचंड की जमकर आलोचना की और कहा कि उनकी सोच भारत विरोधी है. माधव कुमार के मुताबिक़ उनका देश एक संप्रभु देश है और भारत से निर्देश लेने संबंधी आरोप निराधार हैं. "प्रधानमंत्री पद से इस्तीफ़ा देने के बाद प्रचंड बेचैन हैं और दिक्कतें खड़ी कर रहे हैं." नेपाली प्रधानमंत्री ने स्पष्ट शब्दों में कहा है कि उन्हें भारत से किसी तरह के निर्देश नहीं मिलते हैं.

Myanmar

इस बीच भारत के सेना प्रमुख जनरल दीपक कपूर नेपाल दौरे पर काठमांडू पहुंचे हैं. यात्रा के विरोध में काठमांडू में भारतीय दूतावास के बाहर सैकड़ों माओवादियों ने जनरल कपूर के ख़िलाफ प्रदर्शनों में हिस्सा लिया और हवाई अड्डे पर भी नारेबाज़ी की. माओवादियों ने सरकारी सचिवालय पर भी धरना दिया और नेपाल में भारत की 'दखलंदाज़ी' को रोकने की मांग की.

नेपाल की कम्युनिस्ट पार्टी (यूसीपीएन) ने भारत पर आरोप लगाया है कि भारत सीमा पर नेपाली ज़मीन को हासिल करने की कोशिश कर रहा है. डॉयचे वेले से ख़ास बातचीत में नेपाल के पत्रकार युवराज घीमिरे ने कहा, "नेपाल की माओवादी पार्टी का मानना है कि भारत नेपाल के अंदरूनी मामलों में हस्तक्षेप कर रहा है और सीमा अतिक्रमण कर रहा है."

पुलिस ने दर्जनों प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार कर लिया है. हाल ही में जनरल कपूर ने नेपाल की सेना में पूर्व माओवादियों को भर्ती करने का विरोध किया था. भारतीय दूतावास ने इससे पहले कहा था कि जनरल कपूर के बयान को ग़लत तरीके से लिया गया है और यह बयान भारत के रवैये को नहीं दर्शाता है. उधर युवराज घीमिरे का मानना है कि यह एक राजनीतिक मुद्दा है और इसे राजनीतिक रूप से उठाया गया है.

पिछले शनिवार को भी भारतीय विदेश मंत्री एसएम कृष्णा ने नई दिल्ली में माओवादी नेता प्रचंड से नेपाली माओवादियों के भारत के ख़िलाफ बोलने पर आपत्ति जताई थी. इस घटनाक्रम के बीच जनरल कपूर की यात्रा से बड़ी उम्मीदें लगाई जा रही हैं. अपनी नेपाल यात्रा के दौरान जनरल कपूर प्रधानमंत्री माधव कुमार नेपाल और रक्षा मंत्री विद्या भंडारी से मुलाक़ात करेगें और दोनों देशों में सुरक्षा सहयोग पर भी बातचीत होगी.

रिपोर्टः एजेंसियां/एम गोपालकृष्णन

संपादनः एस गौड़

संबंधित सामग्री

विज्ञापन