नरभक्षी नर्स से हैरान ब्रिटेन | दुनिया | DW | 22.07.2014
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

नरभक्षी नर्स से हैरान ब्रिटेन

भारत में छह साल की बच्ची के बलात्कार की घटना से लोगों के बीच आक्रोश है, तो ब्रिटेन में बच्ची को मार कर खाने का इरादा रखने वाले व्यक्ति ने लोगों को हैरान कर दिया है.

58 साल के डेल बोलिंगर को एक बच्ची की जान ले कर उसे खाने का इरादा रखने के आरोप में दोषी पाया गया है. डेल बोलिंगर नर्स का काम करता है. इसके इरादों के बारे में पता तब चला जब न्यूयॉर्क में एफबीआई को इंटरनेट में इसकी हरकतों पर शक हुआ. डेल बोलिंगर का ईमेल आईडी 'मीट मार्केट मैन' जब शक के घेरे में आया तो एफबीआई ने ब्रिटेन में पुलिस से संपर्क किया.

पुलिस ने बोलिंगर को गिरफ्तार कर लिया और उसके कंप्यूटर को जप्त किया. कंप्यूटर में बच्चों की कई तस्वीरें मिलीं जिनके साथ छेड़ छाड़ की गयी थी. किसी तस्वीर पर 'डिनर' लिखा था, तो किसी पर 'बार्बे क्यू'. बोलिंगर ने पुलिस को बताया कि नरभक्षिता के ख्याल उसे छह साल की उम्र से ही आने लगे थे. मां बहुत डरा धमका कर रखती थी, इसी का नतीजा हुआ कि डेल के अंदर इतना गुस्सा भर गया जिसने नरभक्षिता का रूप ले लिया.

दिमागी हालत के टेस्ट

डेल बोलिंगर पर चौदह साल की बच्ची को मारने की कोशिश के आरोप हैं. इंटरनेट के जरिए उसने बच्ची से संपर्क किया और चैटिंग कर उससे दोस्ती की. फिर उसने बच्ची से मिलने की योजना बनाई और मिलने से एक दिन पहले बताया कि वह उसका सिर काटना चाहता है और इसके लिए कुल्हाड़ी भी खरीद ली है. क्योंकि बच्ची की उम्र 16 साल से कम है, इसलिए डेल पर नाबालिग लड़की के शोषण के आरोप भी लगे हैं. लेकिन डेल का कहना है कि उसका यौन शोषण का इरादा नहीं था.

डेल की एक वेबसाइट भी है जिस पर उसने खुद को नरभक्षी बताया है. वेबसाइट पर उसने जवान लड़कियों को मारने के शौक के बारे में बताया है. उसने एक 39 साल की महिला और पांच साल की बच्ची को मार कर खाने की बात भी लिखी है. डेल बोलिंगर पर आरोप तो तय हो गए हैं लेकिन अभी उसे सजा नहीं सुनाई गयी है. फिलहाल उसके कुछ टेस्ट होने बाकी हैं. दिमागी हालात का पूरी तरह पता लगने पर ही सजा दी जा सकेगी. इस मामले में डेल को दस साल कैद हो सकती है.

आईबी/एमजे (डीपीए)

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन