दूसरे विश्वयुद्ध में डूबा एक और जापानी युद्धपोत मिला | दुनिया | DW | 21.10.2019
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

दुनिया

दूसरे विश्वयुद्ध में डूबा एक और जापानी युद्धपोत मिला

गहरे समुद्र में खोज करने वाले रिसर्चरों और कुछ इतिहासकारों ने दूसरे विश्वयुद्ध में डूबे जापानी विमानवाहक युद्धपोत का पता लगाया है. इस युद्धपोत ने बैटल ऑफ मिडवे के दौरान जलसमाधि ली थी.

Gesunkene Kriegsschiffe Miday Atoll Hawaii (picture-alliance/AP Photo/C. Jones)

पानी में डूबा अकागी

वुल्कान इंक के निदेशक रॉब क्राफ्ट और अमेरिका की नेवल हिस्ट्री एंड हेरिटेज कमांड के इतिहासकार फ्रांक थॉम्पसन ने रविवार को जहाज की हाई फ्रीक्वेंसी वाली सोनार तस्वीरें देखने के बाद कहा कि इसकी जगह और आकार को देखने के बाद कहा जा सकता है कि यह विमानवाहक अकागी है.

पर्ल हार्बर से करीब 2090 किलोमीटर दूर 18000 फीट गहरे पानी में अकागी का पता चला है. रिसर्चरों ने एक जहाज को ढूंढने के लिए सोनार से लैस ऑटोनॉमस अंडरवाटर व्हीकल यानी एयूवी का इस्तेमाल किया. पूरी रात गहरे पानी में रह कर आंकड़े जुटाने के बाद जब एयूवी वापस लौटा तो उसके पास इस जंगी जहाज की तस्वीरें भी थीं.

पिछले हफ्ते ही एक और जापानी जहाज कागा का पता चला था. फ्रांक थॉम्पसन का कहना है, "हम जंग के बारे में पढ़ते हैं, हम जानते हैं कि क्या हुआ था, लेकिन जब आप समुद्र के तल में इस तरह के कबाड़ और दूसरी चीजों को देखते हैं तो आपको महसूस होता है कि जंग की असल कीमत क्या होती है. आप उस नुकसान को देखते हैं जो इन चीजों को हुआ, और इस तरह के जहाजों के कुछ वीडियो आपका अभिमान मिटा देते हैं क्योंकि ये जंग की कब्रें हैं."

कागा की सोनार तस्वीरें देखने के बाद पता चलता है कि यह भारी विमानवाहक युद्धपोत बहुत तेज गति से समुद्र की तल से टकराया था. इसकी वजह से कबाड़ फैलने के साथ ही तल में एक बड़ा गड्ढा भी बन गया. ऐसा लगता है जैसे समुद्र में एक बड़ा धमाका हुआ हो. समुद्र तल की ओर जहाज का अगला हिस्सा करीब 4.8 किलोमीटर नीचे जाने के बाद कीचड़ और तलछट में धंसा हुआ है. 

अमेरिकी बमों ने कागा में भयानक आग लगा दी थी और यह पूरी तरह से जल गया था हालांकि जहाज के ज्यादातर हिस्से एक साथ ही हैं. इसकी तोपों में कुछ अब भी सही सलामत हैं और एक तरफ अटकी हुई हैं.

Gesunkene Kriegsschiffe Miday Atoll Hawaii (picture-alliance/AP Photo/Vulcan Inc.)

पिछले हफ्ते मिले कागा की तस्वीर.

1942 के जून में हुई हवाई और पानी की जंगों में डूबे सात जहाजों का पता चल चुका है. इनमें पांच जापान के जहाज थे और दो अमेरिका के. पेट्रेल नाम के एक जहाज पर रिसर्चरों और इतिहासकारों का एक समूह इन जहाजों की खोज कर रहा है. जहाज पर सवार लोगों को उम्मीद है कि वो 1942 की बैटल ऑफ मिडवे में डूबे सभी जहाजों का पता लगा लेंगे. प्रशांत महासागर में दूसरे विश्वयुद्ध के दौरान हुई इस जंग को अमेरिका के लिए बेहद अहम माना जाता है.

अमेरिकी और जापान के युद्धपोतों और जंगी जहाजों के बीच मिडवे अटॉल से करीब 320 किलोमीटर दूर हुई इस जंग में जापानियों ने अचानक कार्रवाई के जरिए मिडवे अटॉल पर कब्जा करने की योजना बनाई थी. यह अमेरिकी सेना का एक अड्डा था. अमेरिकी सैनिकों ने हालांकि जापानियों की हमले के बारे में बातचीत सुन ली थी और वो तैयार हो कर उनके आने का इंतजार कर रहे थे. इस जंग में करीब 2000 जापानी और 300 अमेरिकी सैनिकों की मौत हो गई.

Ortung von Kriegsschiffen aus dem 2. Weltkrieg (picture-alliance/AP Photo/C. Jones)

जहाज की तस्वीरों विश्लेषण करते रॉब क्राफ्ट

माइक्रोसॉफ्ट के सह संस्थापकों में एक स्वर्गीय पॉल एलन ने इस खोज की शुरुआत की थी. कई सालों तक पेट्रेल पर सवार नाविकों और रिसर्चरों का दल अमेरिकी नौसेना और दूसरे अधिकारियों के साथ काम करता रहा ताकि डूबे हुए जहाजों का पता लगा कर उनके बारे में जानकारी दर्ज की जाए. अब तक इस अभियान में 30 जहाजों का पता चल चुका है. क्राफ्ट का कहना है कि एलन ने यह काम अपने पिता की सैन्य सेवाओं का सम्मान करने के लिए शुरू की थी. बीते साल एलन की मौत हो गई. क्राफ्ट का कहना है, "वास्तव में अब यह उससे बहुत आगे चला गया है. हम सेवा में लगे सदस्यों का सम्मान कर रहे हैं, यह शिक्षा के बारे में हैं और आप जानते हैं कि भविष्य की पीढ़ियों के लिए इतिहास को फिर से जिंदा किया जा रहा है. "

एनआर/एके (एपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री