थाई सेना और विपक्ष के बीच मुठभेड़ | जर्मन चुनाव 2017 | DW | 28.04.2010
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

जर्मन चुनाव

थाई सेना और विपक्ष के बीच मुठभेड़

सड़कों पर बैरिकेड बनाते हुए थाईलैंड की सुरक्षा टुकड़ियों ने बुधवार को विपक्ष के प्रदर्शनकारियों को बैंकॉक से एक पड़ोसी प्रांत में जाने से रोक दिया. सैनिक रबड़ बुलेटों का इस्तेमाल कर रहे थे. एक सैनिक के मारे जाने की ख़बर.

default

बैंकॉक के पुराने डोन मुएआंग हवाई अड्डे के पास प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए सैकड़ों सैनिकों व पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया था. टेलिविज़न रिपोर्टों के अनुसार रबड़ की गोलियों से 10 से 20 तक लोग घायल हो गए हैं, जिनमें एक सैनिक भी शामिल है. इस बीच पता चला है कि उसकी मौत हो चुकी हैं.

विपक्षी प्रदर्शनकारी क्वानचाई प्राइफाना के नेतृत्व में बैंकॉक से पड़ोस के प्रांत पांथुम थानी की ओर बढ़ रहे थे. जहां सोमवार को विपक्षी आंदोलन यूडीडी के 11 समर्थकों को गिरफ़्तार कर लिया गया था. यह पहला मौक़ा था, जब विपक्ष के समर्थकों को गिरफ़्तार किया गया.

Unruhen in Thailand Flash-Galerie

पिछले 48 दिनों से बैंकॉक में विपक्ष का प्रदर्शन चल रहा है. राजधानी के कई केंद्रीय इलाकों में उनका धरना जारी है. प्रधानमंत्री अभिसित वेजाजीवा पर दबाव बढ़ता जा रहा है कि वे शहर के समृद्ध बाज़ार के इलाकों को प्रदर्शनकारियों से खाली कराएं. प्रदर्शनकारियों के धरने का मुख्य केंद्र मध्य बैंकॉक में राचाप्रासोंग चौक है.

रविवार को टेलिविज़न पर सेनाध्यक्ष जनरल अनुपोंग पाओचिंदा को साथ लिए प्रधान मंत्री अभिसित वेजाजीवा ने घोषणा की थी कि राजधानी में स्थिति सामान्य बनाने के लिए सुरक्षा के क़दम कड़े किए जाएंगे. हालांकि कई हफ़्तों से प्रदर्शन जारी हैं, लेकिन बलप्रयोग के मामले में अभी तक दोनों पक्षों की ओर से काफ़ी संयम बरता जा रहा था. लेकिन इस बीच स्थिति बदलती नज़र आ रही है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/उभ

संपादन: आभा मोंढे

संबंधित सामग्री

विज्ञापन