जीन्स के सहारे तीन घंटे डूबने से बचा रहा नाविक | दुनिया | DW | 12.03.2019
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

दुनिया

जीन्स के सहारे तीन घंटे डूबने से बचा रहा नाविक

न्यूजीलैंड के समुद्री इलाके में फंसे एक जर्मन नाविक ने अपनी जीन्स को लाइफ जैकेट की तरह इस्तेमाल कर अपनी जान बचाई. बाद में तटरक्षक बल के जवानों ने उसे वहां से निकाल लिया.

30 साल के आर्ने मुर्के अपने भाई के साथ न्यूजीलैंड के उत्तरी द्वीप टोलागा बे के पश्चिमी तट की तरफ याट की सवारी का लुत्फ ले रहे थे. अचानक सागर में मची हलचल के कारण याट अप्रत्याशित रूप से लहराई और आर्ने पानी में आ गिरे. उनके भाई ने उनकी तरफ लाइफ जैकेट फेंका लेकिन वह उस तक नहीं पहुंचे. तेज धारा उन्हें दूर बहा कर ले गई. मुर्के ने न्यूजीलैंड के हेराल्ड अखबार से कहा, "किस्मत से मैं जीन्स के साथ इस तरकीब को जानता था. जीन्स के बगैर आज इस वक्त मैं यहां नहीं होता. वास्तव में इसी ने मेरी जान बचाई है."

आर्ने ने जीन्स के निचले सिरों में गांठ लगा दी और उन्हें पानी के ऊपर से उल्टा किया जिससे उनमें हवा भर गई. इसके बाद उन्होने कमर वाले हिस्से को मोड़ कर उस हवा को बाहर निकलने से रोक लिया. इस तरकीब ने उनकी जीन्स को लाइफ जैकेट में तब्दील कर दिया और फिर उसी के सहारे अगले तीन घंटे तक पानी के तल पर बने रहे. इसी बीच बचाव दल के एक हैलीकॉप्टर ने उन्हें देख लिया. इंटरनेट पर उन्हें बहते और उन्हें बचाए जाने की तस्वीरें डाली जा रही हैं.

न्यूजीलेंड के रेस्क्यू कॉर्डिनेशन सेंटर में सीनियर सर्च एंड रेस्क्यू कॉर्डिनेटर क्रिस हेनशॉ ने एक बयान में कहा, "सौभाग्य से याट में वीएचएफ रेडियो और इमर्जेंसी बेकन दोनों थे ताकि सावधान किया जा सके. पर्याप्त संचार उपकरणों के बगैर इस स्थिति में नतीजे कुछ और होते."

अखबार ने लिखा है कि दोनों भाई सैलानी हैं और उन्होंने याट को ब्राजील के वाहू में पहुंचाने का काम अपने हाथ में लिया है.

एनआर/एए (रॉयटर्स)

DW.COM

इससे जुड़े ऑडियो, वीडियो

विज्ञापन