1. कंटेंट पर जाएं
  2. मेन्यू पर जाएं
  3. डीडब्ल्यू की अन्य साइट देखें

जानवरों को कब मिलेगा इंसान के प्रयोगों से छुटकारा

२४ दिसम्बर २०१८

विज्ञान के प्रयोग जब भी होते हैं, तो जानवरों पर और खास कर चूहों पर टेस्टिंग की जाती है. एक वक्त था जब कॉस्मेटिक प्रॉडक्ट्स को भी जानवरों पर ही टेस्ट किया जाता था. अब ऐसा नहीं होता. लेकिन नई दवाओं के लिए एनीमल टेस्टिंग अब भी जारी है.

https://www.dw.com/hi/%E0%A4%9C%E0%A4%BE%E0%A4%A8%E0%A4%B5%E0%A4%B0%E0%A5%8B%E0%A4%82-%E0%A4%95%E0%A5%8B-%E0%A4%95%E0%A4%AC-%E0%A4%AE%E0%A4%BF%E0%A4%B2%E0%A5%87%E0%A4%97%E0%A4%BE-%E0%A4%87%E0%A4%82%E0%A4%B8%E0%A4%BE%E0%A4%A8-%E0%A4%95%E0%A5%87-%E0%A4%AA%E0%A5%8D%E0%A4%B0%E0%A4%AF%E0%A5%8B%E0%A4%97%E0%A5%8B%E0%A4%82-%E0%A4%B8%E0%A5%87-%E0%A4%9B%E0%A5%81%E0%A4%9F%E0%A4%95%E0%A4%BE%E0%A4%B0%E0%A4%BE/video-46852104
डीडब्ल्यू की टॉप स्टोरी को स्किप करें

डीडब्ल्यू की टॉप स्टोरी

बोल्सोनारो (बाएं) और लूला दा सिल्वा (दाएं)

ब्राजील के चुनावों में बाजीगर बने बोल्सोनारो

डीडब्ल्यू की और रिपोर्टें को स्किप करें

डीडब्ल्यू की और रिपोर्टें

होम पेज पर जाएं