चैंपियंस ट्रॉफी में रियाल की परीक्षा | खेल | DW | 17.09.2013
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

चैंपियंस ट्रॉफी में रियाल की परीक्षा

रियाल मैड्रिड ने पिछले पांच सालों में खिलाड़ियों को खरीदने पर 60 करोड़ यूरो से ज्यादा का निवेश किया है. जर्मनी से इस सीजन में चैंपियन म्यूनिख सहित चार टीमें भाग ले रही हैं.

10 करोड़ यूरो की रिकॉर्ड राशि के लिए खरीदे गए गैरेथ बेल ग्रुप बी में गालातासाराय के खिलाफ होने वाले मैच में रियाल के लिए 9.4 करोड़ के खिलाड़ी क्रिस्टियानो रोनाल्डो के साथ मैदान में उतरेंगे. वेल्स के बेल ने शनिवार को वियारियाल के खिलाफ अपने पहले मैच में गोल किया. 2-2 से ड्रॉ हुए इस मैच में पुर्तगाल के रोनाल्डो ने रियाल के लिए अपना 203वां गोल किया.

रोनाल्डो ने रियाल के साथ अपना कॉन्ट्रैक्ट 2018 तक बढ़ा लिया है. क्लब के अध्यक्ष फ्लोरेंटीनो पेरेस ने कहा है कि यह डील विश्व के सर्वोत्तम खिलाड़ियों को साथ रखने की क्लब की पुरानी नीति के अनुरूप है. उन्होंने कहा, "यह हमारी पहचान के मुख्य पहलुओं में है और क्रिस्टियानो के रूप में हमारे साथ सर्वोत्तम खिलाड़ी है."

आमदनी के लिहाज से दुनिया के सबसे धनी क्लब रियाल ने ताजा फुटबॉल ट्रांसफर रिव्यू के अनुसार पिछले पांच सालों में 61करोड़ यूरो खर्च किए हैं. उनका बजट यूरोपीय और जर्मन चैंपियन बायर्न म्यूनिख का तिगुना है जिसने 22.7 करोड़ यूरो खर्च किए हैं. रियाल के आसपास सिर्फ प्रीमियर लीग का क्लब मैनचेस्टर यूनाइटेड है जिसका बजट 54.9 करोड़ यूरो है.

रियाल राष्ट्रीय लीग में ड्रॉ के साथ चैंपियंस लीग में शामिल होने जा रहा है तो जर्मनी की टीमों का पिछले राउंड में बेहतर प्रदर्शन रहा है. बायर्न म्यूनिख ने पांचवें राउंड में हनोवर को 2-0 से हराया तो डॉर्टमुंड ने हैम्बर्ग को 6-2 से मात दी.

Zinedine Zidane Co Trainer Real Madrid und Carlo Ancelotti

रियाल मैडरिड की परीक्षा

जीत के बावजूद पिछले साल चैंपियन रही बायर्न की टीम को चैंपियंस ट्रॉफी के मैचों में जोश खरोश दिखाने को कहा गया. मंगलवार को उसका पहला मुकाबला सीएसकेए मॉस्को से है. किसी के लिए भी बायर्न के जैसा पिछले साल का प्रदर्शन दोहराना आसान नहीं होता, लेकिन नए कोच पेप गुआर्डियोला के आने के बावजूद टीम अपने रंग में नहीं आ पाई है. बुंडेसलीगा में बायर्न ने अब तक 15 संभव प्वाइंट में से 13 बटोरे हैं और सुपर कप भी जीता है लेकिन बोरुसिया डॉर्टमुंड ने लीग में सारे पांच मैच जीत कर और 9 के मुकाबले 15 गोल कर बायर्न को पीछे धकेल रखा है.

बायर्न ने यूरोप में पिछले समय में 14 में से 12 मैच जीते हैं. इस हिसाब से मंगलवार को मॉस्को के खिलाफ ग्रुप डी का मैच जीतने में उसे कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए. मंगलवार को ही ग्रुप ए में जर्मनी के बायर लेवरकूजेन का मुकाबला मैनचेस्टर यूनाइटेड से होगा. बुधवार को बोरुसिया डॉर्टमुंड नेपल्स के खिलाफ खेलेगा जबकि शाल्के का मुकाबला बुखारेस्ट से होगा.

एमजे/एनआर (रॉयटर्स, डीपीए)

DW.COM