गरीब मछुआरे फिर कैद | दुनिया | DW | 28.04.2017
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

गरीब मछुआरे फिर कैद

समंदर में कोई लकीर नहीं होती, न कोई तार बाड़ होती है. अंदाजे से काम चलता है. और यह अंदाजा गलत निकलते ही भारत औऱ पाकिस्तान के मछुआरे सीधे सलाखों में पहुंच जाते हैं.

वीडियो देखें 01:36
अब लाइव
01:36 मिनट

और पढ़ें