1. कंटेंट पर जाएं
  2. मेन्यू पर जाएं
  3. डीडब्ल्यू की अन्य साइट देखें
Satellitaufnahme vom brasilianischen Amazonas Dschungel

खत्म होता जा रहा है ब्राजील का वर्षावन

२५ नवम्बर २०१७

पर्यावरण की हालत लगातार खराब हो रही है, लेकिन पर्यावरण संरक्षकों की रक्षा करने वाला कोई नहीं. ब्राजील में हालात अलग नहीं हैं. 2015 में 50 पर्यावरण कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गयी.

https://www.dw.com/hi/%E0%A4%96%E0%A4%A4%E0%A5%8D%E0%A4%AE-%E0%A4%B9%E0%A5%8B%E0%A4%A4%E0%A4%BE-%E0%A4%9C%E0%A4%BE-%E0%A4%B0%E0%A4%B9%E0%A4%BE-%E0%A4%B9%E0%A5%88-%E0%A4%AC%E0%A5%8D%E0%A4%B0%E0%A4%BE%E0%A4%9C%E0%A5%80%E0%A4%B2-%E0%A4%95%E0%A4%BE-%E0%A4%B5%E0%A4%B0%E0%A5%8D%E0%A4%B7%E0%A4%BE%E0%A4%B5%E0%A4%A8/a-41528506

ब्राजील के रोन्दोनिया प्रदेश में जंगल में कई जगहों पर आग लगी है. दक्षिण अमेरिका में फायरलैंड के अलग मायने होते हैं. पर्यावरण कार्यकर्ता एलीजू बैर्साकोला जंगल में लगी आग की तस्वीर लेने और उनके बारे में अधिकारियों को जानकारी देने की कोशिश कर रही हैं. जो यहां से जा सकते हैं वे इस आपदा से जान बचाने की कोशिश करते हैं. एक जानलेवा गंध माहौल में तैरती रहती है.

जंगल में आग लगाने की वजह लोगों की लालच है. कोई खाने पीने की चीज चाहता है तो कोई औद्योगिक खेती के लिए जमीन पाने के लिए. पर्यावरण कार्यकर्ता एलीजू बैर्साकोला कहीत हैं, "सब कुछ ज्यादा जमीन के लिए हो रहा है. अमेजन को काटा जा रहा है, जलाया जा रहा है. जंगल का एक हिस्सा आगजनी की वजह से मर रहा है, जो पेड़ बच जाते हैं वे बाद में गिर जाते हैं और बहुत से जानवर भी मर रहे हैं."

जहां पहले कभी प्राकृतिक वर्षावन हुआ करता था, वहां आज समतल खेत हैं. यहां सोया की खेती की जा रही है. जहां कभी बियावान हुआ करता था आज वर्षावन और खेती वाली जमीन के बीच से जाते हाईवे पर अनाज से लदे ट्रक दौड़ते नजर आते हैं. पशुओं के चरागाह बड़े होते जा रहे हैं. वर्षावन संरक्षित क्षेत्र के बाहर किसान एडरसन और उनकी पत्नी इवानी रहते हैं. उनके इलाके पर कृषि माफिया की नजर है. उन्हें इलाका छोड़ने को कहा गया है, हत्या की धमकी भी मिल चुकी है. इवानी कहती हैं, "स्थिति बहुत जटिल है. हम इस डर में जीते हैं कि कभी भी कोई हमारी जान ले सकता है. इसका सामना करना कठिन है."

Brasilien Juruena-Nationalpark  im Amazonasgebiet
तस्वीर: picture-alliance/dpa/I. Risco-Rodriguez

एडरसन यहीं पैदा हुए हैं, जंगल उनका घर और काम की जगह है. वे जंगल के सहारे जीते हैं और उसकी रक्षा करते हैं. इन पेड़ों से मिलने वाली रबर को बेचकर वे जीविका चलाते हैं. पेड़ उनके लिए भगवान हैं. कुछ आगे जाने पर पर्यावरण अपराधियों के निशान दिखते हैं. एडरसन बताते हैं कि व्यवस्थित तरीके से जंगल को खत्म किया जा रहा है. हालात का पता हवाई तस्वीरों से चलता है. जंगल के नुकसान में एक साल के मुकाबले 30 प्रतिशत की तेजी आयी है.

पर्यावरण संरक्षत रोबैर्तो काबराल होर्गेस बताते हैं कि लोगों को रोकना बहुत मुश्किल है. "बेहतर कानून और बार बार पकड़े जाने वाले अपराधियों को सख्त सजा देने के लिए जरूरी राजनीतिक इच्छा का अभाव है. अमेजन को बचाने में सिर्फ इसी से मदद मिल सकती है." लेकिन आर्थिक संकट से गुजर रही ब्राजील की सरकार संरक्षित इलाकों को कम करना चाहती है. राष्ट्रपति ट्रेमर ने इसी साल डेनमार्क जितने बड़े इलाके का संरक्षित वन होने का दर्जा खत्म कर दिया है.

जंगल से जुड़े व्यवसाय बहुत से लोगों की कमाई का प्रमुख जरिया बनते जा रहे हैं. इस इलाके में जमीन के गर्भ में सोना होने का अनुमान है और सरकार बाहरी निवेश को आकर्षित करना चाहती है. कंजरवेटिव सांसद जूलियो लोपेज कहते हैं, "ऐसा कोई देश नहीं जहां ब्राजील जितना हरा भरा इलाका हो.  हम जिस तरह अपने संरक्षित क्षेत्रों को बचा रहे हैं वह बेमिसाल है." लेकिम ऐसा है नहीं. इस बात का सबूत इलाके की हालत है. जंगल की सीमा पर रह रहे छोटे किसान भी अपनी रोजी रोटी खोते जा रहे हैं. मचादिन्यो में पीड़ित परिवारों के लोग कैंप कर रहे हैं, विस्थापित और हत्या की धमकी पाने वाले लोगों के अलावा मारे गये किसानों के परिवार के लोग. पिछले साल 21 लोग मारे गये थे. पिछले साल ब्राजील में 8,000 वर्ग किलोमीटर जंगल नष्ट हो गया. अमेजन के वर्षावन में पेड़ों की जगह खाली जगहें बढ़ती जा रही हैं.

डीडब्ल्यू की टॉप स्टोरी को स्किप करें

डीडब्ल्यू की टॉप स्टोरी

गाम्बिया:बच्चों की मौत के बाद जांच के घेरे में भारतीय कंपनी

डीडब्ल्यू की और रिपोर्टें को स्किप करें

डीडब्ल्यू की और रिपोर्टें

होम पेज पर जाएं