′′क्या पहनूं, कब और किसके साथ बाहर जाऊं... तुम्हें क्या′′ | दुनिया | DW | 09.08.2017
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

''क्या पहनूं, कब और किसके साथ बाहर जाऊं... तुम्हें क्या''

चंडीगढ़ में हुए छेड़खानी के मामले पर हरियाणा के बीजेपी उपाध्यक्ष ने पीड़िता पर सवाल उठाया कि वह आधी रात बाहर क्या कर रही थी. इस पर सोशल मीडिया ने लड़कियों ने बीजेपी नेता को आड़े हाथों लिया.

भारत की सैकड़ों महिलाएं आधी रात को बाहर निकलीं और उन्होंने सेल्फी खींच कर सोशल मीडिया पर हैशटैग #AintNoCinderella के साथ पोस्ट की. हाल ही में चंडीगढ़ में छेड़छाड़ के एक मामले पर हरियाणा के बीजेपी उपाध्यक्ष रामवीर भाटी ने पीड़िता पर ही सवाल उठाते हुए कहा था कि वो लड़की आधी रात को बाहर क्या कर रही थी. इस बयान पर बीजेपी नेता की काफी आलोचना हुई और प्रतिक्रिया में लड़कियों ने आधी रात को निकल कर तस्वीरें डालीं.

#AintNoCinderella का मतलब है मैं सिंड्रेला नहीं हूं. सिंड्रेला की कहानी, जिसमें एक प्यारी सी लड़की होती है. उसकी सौतेली मां और बहनें उसे तंग करते हैं. एक बार उसे पार्टी में जाना होता है लेकिन पार्टी में जाने के लिए उसके पास अच्छे कपड़े भी नहीं होते है. एक परी आकर उसे अच्छे कपड़े पहना कर तैयार कर देती है और कहती है कि आधी रात से पहले लौट आना क्योंकि जादू आधी रात के बाद खत्म हो जाएगा. इसीलिए लड़कियां तंज के साथ सेल्फी पोस्ट कर रही हैं कि वे सिंड्रेला नहीं हैं. वे आधी रात से पहले घर नहीं लौटेंगी. वे घूमेंगी और यह उनकी आजादी है.

लड़कियों ने तस्वीरें पोस्ट करके लिखा, "अगर मैं रात में 12 बजे बाहर हूं तो इसका मतलब ये नहीं है कि मेरा रेप कर दिया जाए."

शनिवार को हुए इस छेड़छाड़ के मामले हरियाणा बीजेपी अध्यक्ष का बेटा विकास बराला और उसका एक दोस्त आधी रात को एक लड़की का कार से पीछा करते रहे और उसे रोकने की कोशिश करते रहे. पीड़िता ने अपने बयान में कहा कि उसे लगभग अगवा कर लिया गया था.

इस मामले में पुलिस का गैरजिम्मेदाराना रवैया भी सवालों के घेरे में रहा. पुलिस ने शुरुआती 24 घंटे तक कोई कदम नहीं उठाया था. वहीं पुलिस अधिकारियों ने कह दिया था कि इस मामले में हमें कोई सीसीटीवी फुटेज नहीं मिले हैं. आरोपी और उसके दोस्त ने मेडिकल रिपोर्ट के वक्त अपने खून और यूरीन के सैंपल देने से इंकार कर दिया था, जिसके बाद डॉक्टरों ने ऑब्जर्वेशन के आधार पर रिपोर्ट बनाई थी कि दोनों आरोपी वारदात के समय नशे में थे. उसके बाद बीजेपी उपाध्यक्ष ने पीड़िता के ही खिलाफ बयान दे दिया.

इस पूरे मुद्दे पर सोशल मीडिया पर बेटा बचाओ भी ट्रेंड करता रहा. साफ नजर आया कि पुलिस और नेता इस मामले को दबाने की कोशिश करते रहे. एक तरफ हरियाणा सरकार बेटी बचाओ का नारा देते हैं और दूसरी तरफ पीड़िता पर आरोप लगाते हैं कि वह रात को बाहर क्या कर रही थी. इसीलिए लोगों ने हरियाणा सरकार को आड़े हाथों लिया और कहा कि सरकार बेटा बचाओ अभियान चला रही है. 

कई दिनों बाद और काफी दबाव के बाद सीसीटीवी फुटेज सामने आए जिसमें आरोपी पीड़िता का पीछा करते दिख रहे हैं. इस मामले में आरोपी विकास बराला और उसके दोस्त को गिरफ्तार भी कर लिया गया है.

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी ने #Ain'tNoCinderella पर सेल्फी पोस्ट करते हुए लिखा है,''मैं रात के 12 बजे घर से बाहर हूं और इसका मतलब यह नहीं मेरा पीछा किया जाए, मुझसे छेड़खानी की जाए या मेरा रेप किया जाए. मेरी गरिमा हर वक्त मेरा अधिकार है.''

सुरभी ने सेल्फी पोस्ट करते हुए लिखा कि मैं क्या पहनूं, किसके साथ बाहर जाऊं, किस वक्त जाऊं इससे तुम्हारा कोई मतलब नहीं है.


इसी ट्रेंड में मुद्रा ने ने लंदन से अपनी तस्वीर पोस्ट की और लिखा कि चाहे दिल्ली हो या लंदन में घूमना चाहती हूं देर तक बाहर रहना चाहती हूं.

 

संबंधित सामग्री

विज्ञापन