कॉमिक्स के बदलते सुपरहीरो | मनोरंजन | DW | 03.03.2011
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

कॉमिक्स के बदलते सुपरहीरो

भारत में सालों से लोक कथाओं और पौराणिक कथाओं के पात्र बच्चों की कॉमिक्स में छाए रहे हैं, लेकिन बदलते युग में ग्राफिक्स की मदद से कॉमिक्स को वह रूप दिया जा रहा है, जो बच्चों के साथ साथ बड़ों को भी भाए.

default

भारत में कॉमिक्स के नए सुपरहीरो की तलाश की कोशिश में बच्चों और युवाओं को ध्यान में रखकर पुराने चरित्रों को ग्राफिक्स की सहायता से आधुनिक रूप में ढाला जा रहा है.

ग्राफिक्स नॉवेल कॉरिडोर के लेखक सारनाथ बनर्जी ने कहा, "मैं मानता हूं कि हम इतिहास बनाने वालों में से हैं." उन्होंने कहा, "मैं अपनी आंखों से जो देखता हूं, वही लिखता हूं."

भारत की युवा पीढ़ी हिन्दू धर्म पर आधारित अमर चित्रकथा को पढ़ते हुए बड़ी हुई है और अमर चित्रकथा भारत की सफलतम सीरीज में से है. लेकिन बनर्जी और दूसरे लोगों जैसे अरिजीत सेन की रिवर्स ऑफ स्टोरीज की सफलता को देखते हुए प्रकाशक कुछ अलग करना चाहते हैं. एक विवादित बांध का समाज और पर्यावरण पर होने वाले प्रभाव को रिवर्स ऑफ स्टोरीज में बताया गया है.

नए कैरेक्टरों की तलाश

कुछ प्रकाशक नए भारतीय सुपरहीरों को ब्रांड बनाना चाहते हैं, जिनको लेकर स्पाइडरमैन और बैटमैन जैसे कैरेक्टरों का मुकाबला किया जा सके.

विमनिका कॉमिक्स के प्रधान संपादक करण वीर अरोड़ा ने कहा, "एक ऐसा कैरेक्टर जो वास्तविकता के करीब हो. भारतीय पोशाक पहने और जिसे देखकर एक आम भारतीय की छवि उभरे."

Comics Jüdisches Museum

विमनिका कॉमिक्स का लक्ष्य है कि पौराणिक कथाओं और ग्राफिक्स नॉवेल की बीच की दूरी को कम करते हुए पौराणिक महत्व वाले कैरेक्टरों को 21वीं सदी के मुताबिक नया रूप दिया जाए. इसकी एक सीरीज में महाभारत के चरित्र करण को आधुनिक रूप में प्रस्तुत किया गया है. इसमें एक युवक है, जिसका बड़ा कारोबार है, लेकिन उसे एक बुरे सपने आते हैं. बाद में पता चलता है कि वह महाभारत के महान योद्धा करण का पुनर्जन्म है.

दिल्ली के एक अन्य प्रकाशक कैंपफायर रावण को आधुनिक रूप देकर उसे ग्राफिक्स नॉवेल में पेश करने की तैयारी में है. रावण पर आधारित सीरीज का नाम रावण- रोअर ऑफ द डेमन किंग है.

अरोड़ा ने कहा, "हम पुराने कैरेक्टरों के मिले जुले रूप में प्रस्तुत करने की कोशिश कर रहे है. लोग ऐसे चरित्रों से आसानी से जुड़ जाते हैं. हम इन्हें समकालीन तथ्यों के साथ दिखा रहे हैं."

गाढ़ी कमाई का जरिया

प्रकाशकों के इस प्रयोग का बच्चे और वयस्क एक साथ आनंद ले सकते हैं. हालांकि रावण सीरीज अभी प्रकाशित नहीं हुई है, लेकिन बाजार में इसको लेकर जो उत्साह है, उसे देखकर कहा जा सकता है कि यह सीरीज खासी कमाई करेगी.

भारत में कॉमिक्स का बाजार दिनोंदिन बढ़ रहा है. नई दिल्ली में फरवरी माह में कॉमिक्स कॉन यानी एक मेला आयोजित किया गया, जहां उदबिलाव मानुस के साथ कई नई कॉमिक्स सामने आईं. उदबिलाव मानुस में 22 साल के युवक अधिराज सिंह के रूप में नया सुपरहीरो पेश किया गया, जो आधा इनसान है और आधा उदबिलाव. वह भ्रष्टचार के खिलाफ लड़ता है और सिस्टम को ठीक करने की कोशिश करता है.

हालांकि यह भारतीय परिवेश का चरित्र है, लेकिन इसकी तकनीकी क्षमता की बात करें तो यह दुनिया भर के चरित्रों से प्रभावित लगता है.

अरोड़ा ने कहा, "कहानी भारतीय है, लेकिन कलात्मक रूप से यह यूरोप और अमेरिका से प्रभावित है. इसमें भारतीय कहानियों की तरह ड्रामा है, इमोशंस है और यह आध्यात्मिक स्पर्श लिए हुए है."

रिपोर्टः एजेंसियां/एस खान

संपादनः आभा एम

DW.COM

विज्ञापन