कश्मीर नीति में कोई बदलाव नहीं: अमेरिका | जर्मन चुनाव 2017 | DW | 22.12.2010
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

कश्मीर नीति में कोई बदलाव नहीं: अमेरिका

अमेरिका ने साफ किया है कि उसकी कश्मीर नीति में किसी तरह का बदलाव नहीं किया गया है. अमेरिकी विदेश विभाग का कहना है कि इस मुद्दे को बातचीत के जरिए सुलझाना अंततः भारत और पाकिस्तान की ही जिम्मेदारी है.

default

घाटी में इस साल रहा हिंसा का बोलबाला

अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता पीजे क्राउली ने कहा, "भारत और पाकिस्तान से होने वाली हमारी नियमित बातचीत में अकसर कश्मीर का मुद्दा आता है. इस बारे में कोई रहस्य नहीं है. नीति में कोई बदलाव नहीं किया गया है. दोनों देशों के अधिकारियों को हमारा जबाव अकसर वही रहता है कि अंततः यह जिम्मेदारी भारत और पाकिस्तान की है कि वे बातचीत के जरिए कश्मीर मुद्दे को सुलझाएं."

इस साल महीनों तक कश्मीर घाटी में भारत विरोधी व्यापक प्रदर्शन हुए जिसके बाद कश्मीर के अहम अलगाववादी नेताओं ने अमेरिका से मामले में दखल देने को कहा. अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की भारत यात्रा से पहले हस्ताक्षर अभियान चलाया गया ताकि अमेरिका का ध्यान इस समस्या की तरफ दिलाया जा सके. पाकिस्तान भी इस मुद्दे पर अमेरिकी हस्तक्षेप की मांग बराबर उठाता रहा है. पाकिस्तान का कहना है कि भारत के साथ दोतरफा तौर पर इस मुद्दे को सुलझाने में अब तक नाकामी ही हाथ लगी है. इसलिए अमेरिका को इस मुद्दे पर अपनी भूमिका निभानी चाहिए.

वहीं भारत इस मुद्दे पर किसी तीसरे पक्ष की भूमिका को बिल्कुल अस्वीकार्य बताता है.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः आभा एम

DW.COM

WWW-Links

संबंधित सामग्री

विज्ञापन