एयर स्ट्राइक को लेकर मोदी के ′रॉ विज्डम′ पर बना मजाक | भारत | DW | 12.05.2019
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

भारत

एयर स्ट्राइक को लेकर मोदी के 'रॉ विज्डम' पर बना मजाक

ट्विटर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनके 'रॉ विज्डम' (कच्चे ज्ञान) वाली टिप्पणी को लेकर खूब ट्रोल किया जा रहा है.

प्रधानमंत्री मोदी ने एक साक्षात्कार में कहा कि उन्होंने वायुसेना को 26 फरवरी के दिन खराब मौसम में बालाकोट पर एयर स्ट्राइक करने को कहा था क्योंकि उनके 'रॉ विज्डम' के अनुसार बादलों की वजह से हमले के वक्त भारतीय लड़ाकू विमानों को पाकिस्तानी रडार से बचाने में मदद मिलेगी.

कई फिल्मी हस्तियों और राजनेताओं ने अपने ट्विटर अकाउंट से प्रधानमंत्री की टिप्पणी का मजाक उड़ाया और हास्यपूर्ण मीम्स पोस्ट किए. न्यूज नेशन को दिए एक साक्षात्कार में शनिवार को प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था, "विशेषज्ञ खराब मौसम के चलते एयर स्ट्राइक के विषय पर पुन: विचार कर रहे थे लेकिन मैंने कहा कि बहुत सारे बादलों और बारिश की वजह से हमें इसका लाभ मिल सकता है. शायद हम रडार से बच जाएं. यह मेरा 'रॉ विज्डम' था. मैंने कहा, यह फायदेमंद हो सकता है. अंत में मैंने कहा कि बादल से छिपने में मदद मिलेगी, आप जाएं." 

प्रधानमंत्री के वीडियो को भारतीय जनता पार्टी और गुजरात भाजपा के ट्विटर पेजों पर पोस्ट किया गया, लेकिन बाद में इसे हटा दिया गया. इस टिप्पणी से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर ट्रोल की बाढ़ आ गई और इस पर कई मीम्स बनने लगे. राजनेताओं, मशहूर हस्तियों और आम नागरिकों ने प्रधानमंत्री के खिलाफ अविश्वास, क्षोभ और गुस्से को व्यक्त करने के लिए ट्विटर का सहारा लिया.

संगीतकार और गायक विशाल ददलानी ने लिखा, "नरेंद्र मोदीजी, एक नागरिक की तरफ से एक सलाह, विज्ञान सच्चा है. बोलने से पहले किसी जानकार व्यक्ति से सलाह लिया करें ताकि आप दुनिया की नजर में भारत को शर्मिदा ना करें." माकपा के महासचिव सीताराम येचुरी ने लिखा, "राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ छेड़छाड़ नहीं की जानी चाहिए. मोदीजी का इस तरह का गैरजिम्मेदाराना बयान बेहद नुकसानदेह है. ऐसा व्यक्ति भारत का प्रधानमंत्री बना नहीं रह सकता." 

जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने गुजरात भाजपा की पोस्ट का स्क्रीनशॉट साझा करते हुए कटाक्ष किया, "ऐसा लग रहा है कि ट्वीट बादलों में खो गया. किस्मत से मदद के लिए स्क्रीनशॉट तैर रहे हैं." स्टैंड-अप कॉमेडियन कुणाल कामरा ने भी मजा लेते हुए ट्वीट किया, "वह (मोदी जी) यह कहने से सिर्फ एक कदम दूर हैं कि मैं ही पायलट था."

आम लोगों ने भी प्रधानमंत्री की टिप्पणी का खूब मजाक उड़ाया. फिल्म 'उरी: द सर्जिकल स्ट्राइक' के मशहूर और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पसंदीदा डायलॉग 'हाउ इज द जोश?' का भी सोशल मीडिया यूजर्स ने सहारा लिया और मीम बनाए. "हाउ इज द पीएम? -हाई सर!" खूब शेयर किया जा रहा है.

आईएएनएस/आईबी

ये हैं भारतीय आम चुनाव 2019 के पांच सबसे अहम चेहरे

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन