एयर अल्जेरी का मलबा मिला | दुनिया | DW | 25.07.2014
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

एयर अल्जेरी का मलबा मिला

अल्जीरिया के लापता विमान का मलबा उत्तरी माली में मिल गया है. बुर्किना फासो से अल्जीयर्स जा रही यह फ्लाइट गुरुवार तड़के से लापता थी. देर रात विमान के क्रैश होन की पुष्टि हुई. फ्रांस की सेना घटनास्थल के लिए रवाना.

110 यात्रियों और चालक दल के छह सदस्यों के साथ बुर्किना फासो की राजधानी वागादुगू से अल्जीयर्स के लिए निकली फ्लाइट उत्तरी माली के पास क्रैश हुई. हादसा माली और अल्जीरिया बॉर्डर से 50 किलोमीटर दूर हुआ. माली में फ्रांस की सेना तैनात है. एयर अल्जेरी की फ्लाइट एएच5017 में 51 फ्रांसीसी नागरिक थे.

फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांसुआ ओलांद ने शोक जताते हुए पीड़ित परिवारों को पूरी मदद का भरोसा दिया. राष्ट्रपति कार्यालय ने बयान जारी कर कहा, "फ्रांसीसी सेना की एक टुकड़ी को घटनास्थल पर भेज दिया गया है ताकि उसकी सुरक्षा हो सके और सबूत जुटाए जा सकें."

मलबे से पता चल रहा है कि विमान टुकड़े टुकड़े हो चुका था और उसमें आग भी लगी. बुर्किना फासो के सैन्य प्रमुख गिलबेर्ट डिएनडेर के मुताबिक, "फिलहाल हमें यात्रियों के बारे में कोई जानकारी नहीं है लेकिन हमारी टीम कड़ी मेहनत कर रही है."

वागादुगू से अल्जीयर्स के लिए निकली फ्लाइट के पायलटों ने उड़ान भरने के 50 मिनट बाद नाइजीरिया के एयर ट्रैफिक कंट्रोल से संपर्क किया. पायलटों ने खराब मौसम के कारण रूट बदलने का संदेश दिया. इसके बाद विमान रडार से लापता हो गया.

विमान में फ्रांस के 51, बुर्किना फासो के 27, लेबनान के आठ, अल्जीरिया के छह, कनाडा के पांच, जर्मनी के चार, लक्जमबर्ग के दो और बेल्जियम, यूक्रेन, नाइजीरिया, कैमरून, मिस्र और स्विट्जरलैंड का एक एक नागरिक थे. ज्यादातर यात्रियों को अल्जीरिया की राजधानी अल्जीयर्स से कनेक्टिंग फ्लाइट पकड़नी थी.

ओएसजे/एजेए (एएफपी, रॉयटर्स)

DW.COM