इतिहास में आज: 28 दिसंबर | ताना बाना | DW | 27.12.2013
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

इतिहास में आज: 28 दिसंबर

आज ही के दिन इटली के शहर मेसिना में यूरोपीय इतिहास का सबसे भयंकर भूकंप आया था. इस भूकंप ने कई शहरों को तबाह कर दिया और लाखों लोग मारे गए.

28 दिसंबर 1908 में दक्षिणी इटली के मेसिना और रेजो कालाब्रिया में आए भूकंप और सूनामी के बाद एक लाख से ज्यादा लोग मारे गए थे. एक के बाद एक आई प्राकृतिक आपदाओं में मेसिना और रेजो कालाब्रिया समेत कई तटीय शहर तबाह हो गए. स्थानीय समय के मुताबिक तड़के 5 बजकर 20 मिनट पर जमीन के महज 8 किलोमीटर भीतर जबरदस्त हलचल हुई थी. भीषण भूकंप करीब 35 सेकेंड तक महसूस किया गया.

भूकंप का केंद्र मेसिना और कालाब्रिया के बीच बना जलमार्ग था. पानी के भीतर भूकंप आने के बाद समंदर में सूनामी आ गया जिस कारण 39 फीट ऊंची लहरें उठीं. इन लहरों ने पास के तटीय इलाकों में भारी तबाही मचाई. रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 7.1 मापी गई थी और इसके झटके 300 किलोमीटर तक महसूस किए गए.

सबसे ज्यादा तबाही इमारतों के गिरने के कारण हुई थी. महीनों तक राहत और बचाव का काम जारी रहा. भूकंप और सूनामी के 18 दिन बाद राहत कर्मियों ने दो बच्चों को जिंदा बचा लिया.

DW.COM

विज्ञापन