इतिहास में आजः 14 सितंबर | ताना बाना | DW | 13.09.2013
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

इतिहास में आजः 14 सितंबर

आज जहां 450 किलोमीटर प्रति घंटा और उससे भी ज्यादा गति से चलने वाली बुलेट ट्रेनों की बात हो रही है, वहीं आज से 122 साल पहले 100 किलोमीटर की गति से ट्रेन चलाना भी एक रिकॉर्ड होता था.

14 सितंबर का दिन एम्पायर स्टेट एक्सप्रेस के नाम है.
14 सितंबर 1891 को एम्पायर स्टेट एक्सप्रेस नाम की ट्रेन ने न्यूयॉर्क सिटी से बफेलो तक की, 702 किलोमीटर की दूरी सात घंटे और छह मिनट में पूरी की. इस दिन यह ट्रेन अपनी सबसे ज्यादा स्पीड, 132 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चली. जबकि इसकी औसत स्पीड 98.8 किलोमीटर प्रति घंटा थी.

यह ट्रेन जल्दी ही मशहूर हो गई. इसे बाद में ओहायो के क्लीवलैंड तक बढ़ा दिया गया, यानी इसे 998 किलोमीटर की कुल दूरी तय करनी होती थी. न्यूयॉर्क सिटी से अलबैनी तक यह ट्रेन 230 किलोमीटर की दूरी नॉनस्टॉप तय करती थी.
इससे पहले सबसे तेज रफ्तार ट्रोन ब्रिटेन में थी. लंदन से एडिनबरो जाने वाली ट्रेन की रफ्तार 1888 में 84.5 किलोमीटर प्रति घंटा थी.

फिलहाल भारत की सबसे तेज ट्रेन भोपाल शताब्दी एक्सप्रेस 161 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलती है.