अलंकृता श्रीवास्तव: मेनोपॉज जैसे थीम परदे पर दिखाना जरूरी है | ताना बाना | DW | 23.04.2021
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

अलंकृता श्रीवास्तव: मेनोपॉज जैसे थीम परदे पर दिखाना जरूरी है

बॉम्बे बेगम्स सीरीज की लेखिका का कहना है कि जो कहानियां महिलाओं की आपबीती बताती है, उनका चित्रण फिल्मों और सीरीज़ के ज़रिये अब बेहद जरूरी हो गया है. अलंकृता श्रीवास्तव से DW हिन्दी की बातचीत, उनके किरदारों की जिंदगियों के बारे में, ओटीटी प्लेटफॉर्म्स पर कंटेंट पर कसते नियमों और पर्दे पर औरतों की समानता के मुद्दे पर.

वीडियो देखें 13:37