अमेरिकी राष्ट्रपति की क्यूबा यात्रा का महत्व | दुनिया | DW | 21.03.2016
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

अमेरिकी राष्ट्रपति की क्यूबा यात्रा का महत्व

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने क्यूबा की यात्रा कर इतिहास रचा है. क्यूबा के राष्ट्रपति राउल कास्त्रो के साथ आर्थिक और लोकतांत्रिक सुधारों पर बातचीत का देश के लिए बहुत महत्व है.

हवाना के पैलेस ऑफ दि रिवॉल्यूशन में ओबामा और कास्त्रो की चौथी और शायद अब तक की सबसे महत्वपूर्ण मुलाकात होगी. यह वही जगह है जहां राउल के भाई फिडेल कास्त्रो ने कई दशक पहले अमेरिकी दबाव के विरोध में क्यूबा की क्रांति का नेतृत्व किया था. पिछले सितंबर में संयुक्त राष्ट्र की आम सभा में मिलने वाले ये दोनों नेता उसके पहले अप्रैल 2015 में पनामा में आयोजित एक क्षेत्रीय सम्मेलन के दौरान मिले थे. इसके भी पहले 2013 में नेल्सन मंडेला के अंतिम संस्कार पर कास्त्रो और ओबामा की मुलाकात हुई थी.

उस क्रांति के 88 साल बाद पहली बार किसी अमेरिकी राष्ट्रपति का क्यूबा की यात्रा जाना अपने आप में बड़े ऐतिहासिक महत्व की घटना है. शीत युद्ध काल से चली आ रही कटुता को मिटाने में अहम भूमिका निभा कर राष्ट्रपति ओबामा ने विदेश नीति के लिहाज से अपने कार्यकाल के आखिरी साल में यादगार काम किया. फिर से खुले अमेरिकी दूतावास और हवाना शहर का दौरा करने के बाद वे क्यूबा के राष्ट्रपति राउल कास्त्रो के बातचीत करने वाले हैं. दशकों से अलग थलग पड़ी क्यूबा की जनता को भी अमेरिका के साथ राहें जुड़ने से बड़ी उम्मीदें लगी हैं.

करीब 15 महीने पहले शुरु हुई बातचीत में इन दोनों पक्षों के नेताओं की विचारधारा में तमाम अंतरों के बावजूद द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत बनाने की कोशिश हुई है. ओबामा पर आलोचकों का दबाव है कि वे कास्त्रों की कम्युनिस्ट सरकार को अपने राजनीतिक विरोधियों को असंतोष जताने की अनुमति देने और साथ ही अर्थव्यवस्था को और खोलने के लिए कहें. ओबामा अधिक से अधिक आर्थिक सुधारों को बढ़ावा देने और क्यूबा में इंटरनेट को फैलाने की ओर अग्रसर हैं. अमेरिकी न्यूज नेटवर्क एबीसी को दिए साक्षात्कार में ओबामा ने कहा, "तमाम घोषणाओं में से एक ये होगी कि इस द्वीप पर वाई-फाई और ब्रॉडबैंड पहुंच को बढ़ाने के लिए गूगल ने करार किया है."

राष्ट्रपति कास्त्रो के साथ वे अभिव्यक्ति की आजादी जैसे मुद्दे उठा सकते हैं. वहीं कास्त्रो ने साफ किया है कि क्यूबा अपनी 57 साल पुरानी क्रांति की राह से नहीं हिलेगा. क्यूबा के प्रशासन का मानना है कि अमेरिका को अपने आर्थिक प्रतिबंध हटाने और क्यूबा में स्थित ग्वांतानामो नेवल बेस को बंद करने के बाद ही क्यूबा के साथ सामान्य संबंध बनाने की उम्मीद करनी चाहिए.

ओबामा के पहुंचने से कुछ ही घंटे पहले क्यूबा की पुलिस ने कम से कम दर्जन भर विरोध प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया.

Kuba Festnahme Dissidenten

'लेडीज इन वाइट' प्रदर्शनकारियों को हटाती पुलिस

ओबामा की 54-साल पुराने प्रतिबंधों को रद्द करने की मांग कांग्रेस में रिपब्लिकन सदस्यों ने ठुकरा दी है. ओबामा के साथ क्यूबा के इस ऐतिहासिक यात्रा दल में डोमोक्रेट और रिपब्लिकन सदस्य दोनों ही हैं और उन्हें उम्मीद है कि 8 नवंबर के चुनाव के बाद कांग्रेस फिर इस पर विचार करेगी. तब तक ओबामा ने अपने राष्ट्रपति पद की कार्यकारी शक्तियों का इस्तेमाल कर व्यापार पर प्रतिबंध कुछ हल्के किए हैं और यात्रा का कार्यक्रम बनाया है. मंगलवार को ओबामा क्यूबा के टेलिविजन चैनल पर एक संदेश देंगे और बेसबॉल के एक प्रदर्शनी मैच में अमेरिका के टैम्पा बे रेज और क्यूबा की राष्ट्रीय टीम का खेल देखेंगे.

DW.COM

संबंधित सामग्री

विज्ञापन