1. कंटेंट पर जाएं
  2. मेन्यू पर जाएं
  3. डीडब्ल्यू की अन्य साइट देखें
Boeing 787 der Fluggesellschaft Air India
तस्वीर: imago images/Ralph Peters

अमेरिका ने लगाया भारत से विशेष उड़ानों पर प्रतिबंध

२३ जून २०२०

वीजा प्रतिबंधों के बाद अमेरिका ने उन विशेष उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया है जो भारत सरकार महामारी के दौरान अमेरिका में फंसे भारतीय नागरिकों को वापस लाने के लिए चला रही थी.

https://www.dw.com/hi/%E0%A4%85%E0%A4%AE%E0%A5%87%E0%A4%B0%E0%A4%BF%E0%A4%95%E0%A4%BE-%E0%A4%A8%E0%A5%87-%E0%A4%95%E0%A5%8D%E0%A4%AF%E0%A5%8B%E0%A4%82-%E0%A4%B2%E0%A4%97%E0%A4%BE%E0%A4%AF%E0%A4%BE-%E0%A4%AD%E0%A4%BE%E0%A4%B0%E0%A4%A4-%E0%A4%B8%E0%A5%87-%E0%A4%B5%E0%A4%BF%E0%A4%B6%E0%A5%87%E0%A4%B7-%E0%A4%89%E0%A5%9C%E0%A4%BE%E0%A4%A8%E0%A5%8B%E0%A4%82-%E0%A4%AA%E0%A4%B0-%E0%A4%AA%E0%A5%8D%E0%A4%B0%E0%A4%A4%E0%A4%BF%E0%A4%AC%E0%A4%82%E0%A4%A7/a-53904326

अमेरिका का कहना है कि ये उड़ानें एक अनुचित कार्य प्रणाली के तहत चल रही थीं और इनसे दोनों देशों के बीच की विमानन संधि का उल्लंघन हो रहा था. अमेरिकी सरकार के परिवहन विभाग का आरोप है कि एयर इंडिया भारत के नागरिकों को वापस लाने के लिए विशेष उड़ानें भी चला रही है और आम यात्रियों को टिकट भी बेच रही है. विभाग का आरोप है कि इससे अमेरिकी विमानन कंपनियों का प्रतिस्पर्धात्मक नुकसान हो रहा है क्योंकि भारतीय नियामकों ने अमेरिकी कंपनियों को भारत के लिए उड़ानें चलाने से रोका हुआ है.

विभाग का यह भी कहना है कि एयर इंडिया महामारी से पहले की स्थिति के लगभग आधे के बराबर उड़ानें चला रहा है और कंपनी नागरिकों को स्वदेश लौटा लाने वाली उड़ानों का इस्तेमाल दूसरे देशों के उड़ान संबंधी प्रतिबंधों से बचने के लिए कर रही है. विभाग ने निर्देश दिया है कि भारतीय विमानन कंपनियों को चार्टर उड़ानों को चलाने से पहले विभाग से अनुमति लेने के लिए आवेदन देना होगा ताकि विभाग और बारीकी से जांच कर सके.

जब भारत अमेरिकी विमानन कंपनियों पर से प्रतिबंध हटा लेगा, तब अमेरिका का परिवहन विभाग भारत पर लगाए गए इन नए प्रतिबंधों पर पुनर्विचार करेगा. भारत 'वंदे भारत' मिशन के तहत महामारी के दौरान दूसरे देशों में फंसे भारतीय नागरिकों को वापस लाने के लिए विशेष उड़ानें चला रहा है. मिशन अपने तीसरे चरण में है और अभी तक 389 उड़ानों में दुनिया भर से करीबी एक लाख भारतीयों को वापस लाया गया है.

वॉशिंगटन में भारतीय दूतावास ने तुरंत कोई प्रतिक्रिया नहीं दी. आदेश 22 जुलाई से लागू हो चुका है. अमेरिकी परिवहन विभाग ने इसके पहले चीन पर भी आरोप लगाया था कि वह अमेरिकी विमानन कंपनियों को अनुचित रूप से चीन के लिए उड़ानें चलाने की अनुमति नहीं दे रहा है. उसने चीन को भी यह कहा था कि वह कुछ चार्टर उड़ानों के लिए विभाग से पहले से अनुमति ले.

विशेष विमानों पर प्रतिबंध अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप द्वारा लागू किए गए वीजा प्रतिबंधों के तुरंत बाद आया. ट्रंप ने इस साल के अंत तक अमेरिका में काम करने के लिए अनिवार्य एच-1-बी समेत सभी श्रेणी के वीजा को स्थगित कर दिया है. प्रतिबंध सभी देशों के लिए हैं लेकिन इनका सबसे बड़ा असर भारत पर पड़ने की आशंका है क्योंकि अमेरिका हर साल जो 85,000 एच-1-बी वीजा देता है, उसमें से 70 प्रतिशत भारतीयों को मिलते हैं. ये प्रतिबंध उन विदेशी नागरिकों पर लागू नहीं होंगे जो पहले से वैध वीजा पर अमेरिका में हैं. 

सीके/आईबी (रॉयटर्स)

__________________________

हमसे जुड़ें: Facebook | Twitter | YouTube | GooglePlay | AppStore

डीडब्ल्यू की टॉप स्टोरी को स्किप करें

डीडब्ल्यू की टॉप स्टोरी

यूक्रेन के विभाजन का एलान करते रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन

टूटते यूक्रेन पर हमला, रूस पर हमला माना जाएगा: रूस

डीडब्ल्यू की और रिपोर्टें को स्किप करें

डीडब्ल्यू की और रिपोर्टें

होम पेज पर जाएं