अफगानिस्तान खेलेगा क्रिकेट वर्ल्ड कप | खेल | DW | 23.03.2012
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages
विज्ञापन

खेल

अफगानिस्तान खेलेगा क्रिकेट वर्ल्ड कप

अफगानिस्तान की टीम लगातार दूसरी बार ट्वेन्टी 20 वर्ल्ड कप में खेलेगी. दुबई में चल रहे क्वालीफायर मुकाबले में नामीबिया पर जीत दर्ज कर अफगान टीम ने सितंबर में होने वाले टूर्नामेंट में जगह पक्की कर ली.

दोनों ही टीमें शुरुआती मुकाबलों में अजेय रही थीं. जब दोनों के बीच टक्कर हुई, तो अफगान टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 146 रन बनाए. नामीबिया की टीम बड़े स्कोर खड़े करने में माहिर है लेकिन अफगानिस्तान के खिलाफ उसकी नहीं चली और पूरी टीम सिर्फ 99 रन पर आउट हो गई. उस वक्त एक ओवर से ज्यादा बच रहे थे.

हालांकि इस हार के बाद भी नामीबिया का वर्ल्ड कप में रास्ता खुला हुआ है. अब उसे शनिवार को आयरलैंड या नीदरलैंड्स में से किसी एक के साथ भिड़ना है और जीतने वाली टीम को श्रीलंका में होने वाले वर्ल्ड कप 2012 में खेलने का टिकट मिल जाएगा.

इससे पहले वेस्ट इंडीज में 2010 में हुए टी 20 वर्ल्ड कप में भी अफगानिस्तान की टीम खेली थी और वह भारत के ही ग्रुप में थी. नामीबिया के खिलाफ दुबई में खेले गए मैच में उसके सलामी बल्लेबाजों करीब सादिक और जावेद अहमदी ने पहले विकेट के लिए 57 रन बना कर अच्छी शुरुआत की. बाद में नामीबिया के कप्तान सारेल बुर्गर ने तीन विकेट लेकर उनकी हालत खराब कर दी.

लेकिन गेंदबाजी करते वक्त अफगान क्रिकेटर दौलत जादरान ने सिर्फ 18 रन देकर चार विकेट झटक लिए और अफ्रीकी टीम इस सदमे से नहीं उबर पाई. बाद में दाहिने हाथ के तेज गेंदबाज आफताब आलम ने 25 रन देकर चार विकेट ले लिए और नामीबिया के पुछल्ले बल्लेबाजों को आउट कर दिया.

अफगानिस्तान की इस कामयाबी से आईसीसी के प्रमुख हारून लोर्गाट भी खुश हैं, "अफगानिस्तान ने 2008 में डिविजन 5 में क्रिकेट खेलना शुरू किया और सिर्फ चार साल के अंदर वह दो बार आईसीसी की प्रतियोगिता में शामिल हो गया है. यह बहुत अच्छी बात है."

इस कामयाबी के बाद अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में भी जश्न मनाया गया, जो आम तौर पर हमलों और हिंसा का शिकार रहता है. हाल के कुछ सालों में अफगनिस्तान में क्रिकेट बहुत तेजी से लोकप्रिय हुआ है.

दुबई में चल रही प्रतियोगिता से दो टीमें वर्ल्ड कप खेलेंगी. अब शनिवार को होने वाले मैच के विजेता के साथ अफगानिस्तान की टीम एक बार फिर भिड़ेगी. वहीं क्वालीफाइंग मुकाबले का फाइनल होगा. उस मैच की विजेता श्रीलंका में होने वाले वर्ल्ड कप के ग्रुप बी में होगी, जबकि उपविजेता को ग्रुप ए में जगह मिलेगी.

इस मुकाबले में कनाडा, केन्या, अमेरिका, हांग कांग और कई दूसरे देशों ने भी हिस्सा लिया.

रिपोर्टः एएफपी, रॉयटर्स/ए जमाल

संपादनः महेश झा

DW.COM