अचूक टीम और चौंकाने वाली हार | खेल | DW | 12.11.2012
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

अचूक टीम और चौंकाने वाली हार

बायर्न लेवरकूजन को 3-1 से हराकर वोल्फ्सबुर्ग की टीम ने चौंका दिया है. रविवार को लीग के प्रमुख बायर्न म्यूनिख ने आइनत्राख्ट को हराया और जीत की राह पर बढ़ते जा रहे हैं.

default

डियेगो का शानदार गोल

केवल 33 मिनटों में वोल्फ्सबुर्ग की टीम ने तीन धमाकेदार गोल किए. ब्राजील के मिडफील्डर डियेगो ने खेल शुरू होने के केवल चार मिनट बाद एक गोल दागा और 16 मिनट बाद दोबारा गेंद को गोलपोस्ट के पार कर दिया.

डच किलाड़ी बास दोस्त ने फिर मार्सेल शेफर की पास की हुई गेंद को 33 मिनट पर गोल के पार कर दिया, लेवरकूजन को शायद अब तक पता चल गया था कि मैच जीतना मुश्किल हो जाएगा. वोल्फ्सबुर्ग के अंतरिम कोच लोरेंत्स गुंटर कोस्टनर की यह लीग में दूसरी जीत है. पिछले महीने वोल्फ्सबुर्ग के कोच फीलिक्स मागाथ ने क्लब छोड़ दिया था.

जर्मनी की टीम में रहे स्ट्राइकर श्टेफान कीसलिंग ने हालांकि लेवरकूजन के लिए एक गोल दाग ही दिया और शायद इसके जरिए जर्मन राष्ट्रीय कोच योआखिम लोएव को बताने की कोशिश कर रहे हैं कि राष्ट्रीय टीम से उन्हें निकालने का फैसला गलत था. 11 खेलों में कीसलिंग ने अब तक सात गोल दाग दिए हैं,

लेकिन लेवरकूजन के खिलाड़ी वोल्फ्सबुर्ग के साथ मैच में हारने के बाद काफी निराश थे. सेंटर बैक में खेल रहे फिलिप वोलशाइड ने कहा, "हाफटाइम से पहले तो हालत खराब थी. ऐसा कैसे चलेगा. हम सो रहे थे, आप ऐसा खेलकर कैसे जीत सकते हैं."

इससे पहले 15 सितंबर को बोरुसिया डॉर्टमुंड से लेवरकूजन हार गया था लेकिन अब भी वे अंक तालिका में पांचवे स्थान पर हैं. रविवार शाम को ही हनोवर की टीम ने श्टुटगार्ट को 4-2 से हराया. हनोवर के कोच मिर्को स्लोमका ने कहा कि हाफटाइम से पहले श्टुटगार्ट की स्थिति ज्यादा अच्छी थी लेकिन कुछ बदलाव लाने के बाद जीतना आसान हो गया.

Fußball Bundesliga Bayern München vs Eintracht Frankfurt

म्यूनिख आगे

वैसे असली जीत बायर्न म्यूनिख की रही. आइनत्राख्ट फ्रैंकफर्ट के कोच आर्मिन वेह ने कहा कि बायर्न "अपनी ही लीग में हैं." म्यूनिख ने आइनत्राख्ट को 2-0 से हराया और अगली टीम के कोच ने खुद इस बात को माना कि बायर्न म्यूनिख अपने स्तर का खेल खेलता है. 2007 में वह श्टुटगार्ट के कोच थे और उस वक्त उनकी टीम बुंडेसलीगा जीती थी. आर्मिन इस खेल के बारे में कहते हैं कि बायर्न की टीम बहुत तेज है और उनके साथ पूरे मैदान को कवर करने की जरूरत पड़ती है.

बायर्न म्यूनिख के बाद दूसरे स्थान पर शाल्के है जिसने गेलसेनकिर्शन में वेर्डर ब्रेमन को 2-1 से हराया. डॉर्टमुंड अब पांचवे स्थान पर है.

एमजी/एनआर (एएफपी)

DW.COM

WWW-Links

विज्ञापन