1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

दुनिया की सबसे लंबी फ्लाइट की पहली उड़ान

दुनिया की सबसे लंबी फ्लाइट ने अपनी पहली यात्रा पूरी कर ली है. सोमवार को यह फ्लाइट न्यूजीलैंड के ऑकलैंड में उतरी. यह विमान कतर से उड़ा था.

कतर एयरवेज ने ट्वीट किया, "हम आधिकारिक तौर पर विशाल सफेद बादलों के देश न्यूजीलैंड पहुंच गए हैं." कतर एयरवेज की यह फ्लाइट 16 घंटे और 20 मिनट लंबी थी. दोहा से उड़कर यह ऑकलैंड पहुंची. इस दौरान इस विमान ने पांच देशों में 10 टाइम जोन पार किये. इसके लिए उसे कुल 14535 किलोमीटर की दूरी तय करनी पड़ी.

बोइंग 777-200एलआर विमान जब ऑकलैंड में हवाई अड्डे पर उतरा तो उसे पारंपरिक स्वागत मिला. एयरपोर्ट के अग्निशमक दल ने पानी की धार बरसाकर उसका स्वागत किया. एयर इंडिया भी दुनिया की सबसे लंबी फ्लाइट उड़ाने का दावा करती है. उसकी फ्लाइट दिल्ली से सैन फ्रैंसिस्को की है जिसकी दूरी 15300 किलोमीटर बैठती है. लेकिन इसमें एक टेक्निकल लोचा है. जैसा कि टाइम्स ऑफ इंडिया ने अपनी रिपोर्ट में लिखा है, एयर इंडिया अपनी दूरी में 1400 किलोमीटर अतिरिक्त जोड़ती है ताकि हवा की दिशा का फायदा उठा सके. इस कारण उसकी दूरी ज्यादा हो जाती है जबकि असल में दूरी इतनी बनती नहीं है. इसके उलट दोहा और ऑकलैंड के बीच के दूरी दिल्ली और सैन फ्रैंसिस्को से ज्यादा है.

कतर एयरवेज ने सबसे लंबी फ्लाइट चलाने की होड़ छेड़ दी है. अब सिंगापुर एयरलाइंस भी अपनी उस 15344 किलोमीटर लंबी फ्लाइट को फिर से शुरू करने के बारे में सोच रही है जो न्यू जर्सी के नेवार्क से सिंगापुर जाती है. 2018 में यह फ्लाइट शुरू हो सकती है.

कतर एयरवेज के मुताबिक दोहा से ऑकलैंड की फ्लाइट में चार पायलट और 15 केबिन क्रू सदस्य होते हैं. इस फ्लाइट में करीब 1100 कप चाय या कॉफी पिलाई गई. इसके अलावा 2000 कोल्ड ड्रिंक्स और 1036 प्लेट खाना भी परोसा गया.

यह भी देखिए, किस देश में कितने एयरपोर्ट्स हैं

न्यूजीलैंड के व्यापार मंत्री टॉड मैक्ले ने इस फ्लाइट का स्वागत किया और उम्मीद जताई कि इस फ्लाइट से व्यापार और पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा. मैक्ले ने कहा, "नयी ऑकलैंड-दोहा फ्लाइट व्यापार और मौज-मस्ती के लिए यात्रा करने वालों को ज्यादा विकल्प तो उपलब्ध कराएगी ही, साथ ही हर हफ्ते 116 टन की अतिरिक्त भार क्षमता भी देगी. यह भार क्षमता न्यूजीलैंड के निर्यातकों को अपने ताजा उत्पादन मध्य पूर्व और उसके आगे पहुंचाने में मदद करेगी."

कतर एयरवेज के मुताबिक नई फ्लाइट 1162 भेड़ों के बराबर अतरिक्त भार क्षमता उपलब्ध करा रही है.

वीके/ओएसजे (डीपीए)

DW.COM