1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

आ गई है चार्ज और फोल्ड होने वाली इलेक्ट्रिक साइकिल

यह दुनिया की पहली ऐसी इलेक्ट्रिक बाइक है जो अपने आप चार्ज हो जाएगी और इसे फोल्ड किया जा सकता है.

वेलो नाम की यह साइकिल बैट्री से चलती है. और इसकी बैट्री पैडल मारने से चार्ज होती रहती है. इसलिए कंपनी का दावा है कि बैट्री कभी खत्म नहीं होगी. सेल्फ चार्जिंग मोड को डिएक्टिवेट भी किया जा सकता है. और इसे बिजली से भी चार्ज किया जा सकता है.

वेलो की यह ई-बाइक सिर्फ 12 किलोग्राम की है. इसे अल्ट्रा पोर्टेबल कहा जा रहा है. इसे फोल्ड करके आसानी से एक सूटकेस में रखा जा सकता है ताकि यात्रा पर अपने साथ ले जाया जा सके. वेलो बाइक के सह संस्थापक और डिजायनर वैलेन्टिन वोदेव कहते हैं कि वह एक ऐसी साइकिल बनाना चाहते थे जिसकी तकनीक सबको पछाड़ सके. वादोव कहते हैं, "वेलो बाइक की ज्यादातर ईजाद क्रांतिकारी कही जा सकती हैं."

तस्वीरों में: जर्मनी आते ही लगते हैं ये 10 झटके

वादोव बताते हैं कि साइकिल को फोल्ड करने के लिए जोर आजमाइश भी नहीं करनी होगी. सिर्फ एक बटन दबाने से साइकिल अपने आप फोल्ड हो जाएगी. अब तक जो फोल्डिंग साइकिल बाजार में उपलब्ध हैं उन्हें फोल्ड करने और फिर खोलने में खासी मेहनत करनी पड़ती है.

वेलो बाइक का यह प्रोजेक्ट क्राउडफंडिंग के जरिए चल रहा है. इसके तहत अब तक एक लाख डॉलर जुटाए जा चुके हैं. कंपनी तकनीकी रूप से आधुनिक मोबिलिटी प्रोडक्ट्स बनाती है. एक दशक तक दूसरी कंपनियों के लिए साइकिल, बेबी कैरेज, इलेक्ट्रिक मोपेड आदि बनाने के बाद 2014 में वादोव ने अपनी साथी वैलरी वॉल्फ के साथ मिलकर अपनी कंपनी बनाई. ऑस्ट्रिया की इस कंपनी ने साइकिल उद्योग के जरिए शहरी जिंदगी में क्रांतिकारी बदलावों के प्रयास किए हैं.

वीके/एके (रॉयटर्स)

यह भी देखिए: जर्मनी में साइकिल चलाने के नियम

DW.COM