आर्कटिक क्यों हो रहा है गर्म | ताना बाना | DW | 15.11.2017
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

आर्कटिक क्यों हो रहा है गर्म

आर्कटिक का इलाका धरती के मुकाबले दो या तीन गुना तेजी से गरम हो रहा है. वैज्ञानिकों की एक अंतरराष्ट्रीय टीम नॉर्वे के स्वालबार्ड में इसके कारणों का पता लगा रही है.

वीडियो देखें 04:09

वैज्ञानिक कर रहे हैं पता लगाने की कोशिश

आर्कटिक में जर्मन रिसर्च के 26 साल

1991 में जर्मनी ने श्पित्सबेर्गेन में अपना रिसर्च बेस स्थापित किया - जो पृथ्वी के उत्तरी ध्रुव के पास स्थित दुनिया की आखिरी आबादी वाली जगहों में से एक है. देखिए आखिर किन चीजों का पता लगाने के लिए वहां बसे हैं रिसर्चर. 

DW.COM

इससे जुड़े ऑडियो, वीडियो

संबंधित सामग्री