1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

वायरल वीडियो: भगत सिंह के समर्थकों से यूं मिले महात्मा गांधी

भगत सिंह को जब फांसी दी गई थी तो उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए महात्मा गांधी ने कहा था, "काश मेरे अंदर भी इतना हौसला और देशप्रेम होता, जितना इस नौजवान में था."

भारत के सबसे चर्चित क्रांतिकारी और स्वतंत्रता सेनानी भगत सिंह को जब फांसी दी गई थी तो उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए महात्मा गांधी ने कहा था, "काश मेरे अंदर भी इतना हौसला और देशप्रेम होता, जितना इस नौजवान में था." गांधी और भगत के रिश्तों को लेकर बहुत तरह की बातें कही जाती हैं. लोग कहते और मानते हैं कि गांधी चाहते तो भगत सिंह को बचा सकते थे लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया. भगत सिंह पर बनी फिल्मों में ऐसे सीन दिखाई दिए कि महात्मा गांधी जब गोलमेज सम्मेलन के लिए लंदन में थे तो उन्होंने भगत सिंह की फांसी को रोकने के लिए बात नहीं की या बहुत कम बात की. उस वक्त का एक वीडियो है

इसमें महात्मा गांधी कराची में कांग्रेस के सम्मेलन में हिस्सा लेने पहुंचे थे. यह सम्मेलन उसी दिन हो रहा था जिस दिन भगत सिंह को फांसी दी गई. लोग इस बात से नाराज थे कि भगत सिंह की फांसी रोकने के लिए गांधी कुछ नहीं कर रहे हैं. लोगों ने गांधी को काले झंडे दिखाए. उन्होंने भगत सिंह जिंदाबाद और महात्मा गांधी मुर्दाबाद के नारे लगाए. वीडियो में आप यह भी देख सकते हैं कि विरोध में नारे लगा रहे लोगों से गांधी बहुत प्यार से मिले.

तस्वीरों में देखिए, गांधी से महात्मा तक का सफर

DW.COM