1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

पाकिस्तानी फौजी तो डफर हैं डफर: आसमां जहांगीर

पाकिस्तान की मानवाधिकार कार्यकर्ता और जानीमानी वकील आसमां जहांगीर का एक वीडियो भारत में खूब देखा जा रहा है.

पाकिस्तान की मानवाधिकार कार्यकर्ता और जानीमानी वकील आसमां जहांगीर का एक वीडियो भारत में खूब देखा जा रहा है. एक न्यूज चैनल के प्रोग्राम में वह मेहमान के तौर पर बोल रही थीं. जब टीवी शो की एंकर ने पूछा कि क्या अपनी देशभक्ति का सबूत देने के लिए सेना का समर्थन करना चाहिए. इस पर जहांगीर ने जो जवाब दिया, वह वायरल हो गया है. जहांगीर ने कहा कि मुझे सेना से देशभक्ति का तमगा लेने की जरूरत नहीं हैं. वह कहती हैं, "हमें वो बातें करनी चाहिए जो तल्ख भी हों और जो हकीकत में भी हों." आप भी देखिए, यह वीडियो:

जहांगीर ने कहा कि फौजी तो डफर हैं, सियासी डफर. वह साथ ही यह भी कहती हैं कि मैं सारे फौजियों को नहीं कहतीं. उन्होंने कहा, "मैं सारे फौजियों को नहीं कहतीं. आम जवानों को नहीं कहतीं. ये जो फौजी जरनैल्स जो गॉल्फ खेलते हैं और ठट्ठे मारते हैं... ये वक्त आ गया है कि इन्हें कहा जाए कि हम हाथ जोड़ते हैं, अपने बैरकों में जाओ और हमारे बच्चों को जीने दो." जहांगीर यहां तक कह गईं कि फौज तो कब्जा ग्रुप है.

तस्वीरों में दखिए: बिना सेना के देश

DW.COM

संबंधित सामग्री