1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

ट्रंप अमेरिका को तीसरे विश्व युद्ध की ओर धकेल रहे हैं?

क्या अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप अपने देश को तीसरे विश्व युद्ध की तरफ धकेल रहे हैं? कम से कम अमेरिकी सीनेट की विदेश मामलों की समिति के प्रमुख तो ऐसा ही मानते हैं.

अमेरिकी रिपब्लिकन नेता बॉब कोर्कर का कहना है कि राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप अमेरिका को तीसरे विश्व युद्ध की तरफ धकेल सकते हैं. कभी ट्रंप के समर्थक रहे कोर्कर लगातार ट्रंप की आलोचना कर रहे हैं.

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप अपनी ही पार्टी के नेताओं के निशाने पर आ रहे हैं. रविवार को सीनेटर कोर्कर ने न्यूयॉर्क टाइम्स से बातचीत में कहा कि राष्ट्रपति जिस तरह दूसरे देशों को धमकियां दे रहे हैं उससे अमेरिका तीसरे विश्व युद्ध की तरफ जा सकता है.

उन्होंने ट्रंप पर आरोप लगाया कि वह एक रियलिटी शो की तरह सरकार चला रहे है. क्रोर्कर ने कहा, "वह मुझे चिंता में डालते हैं. उनकी वजह से हर वह शख्स चिंतित है जो अपने देश की परवाह करता है."

कभी ट्रंप के समर्थक रहे कोर्कर सीनेट की विदेश मामलों की समिति के अध्यक्ष हैं. हाल के महीनों में वह ट्रंप के एक बड़े आलोचक बन कर सामने आये हैं. सोशल मीडिया पर दोनों के बीच तू तू मैं मैं होती रही है जिससे रिपब्लिकन पार्टी के मतभेद सबके सामने आते हैं

Bob Corker US Senator (picture-alliance/AP Photo/E. Schelzig)

ट्रंप से कोर्कर का छत्तीस का आंकड़ा चल रहा है

.

रविवार को ट्रंप ने कोर्कर पर निशाना साधते हुए कहा कि कोर्कर ने 2018 में फिर से चुनाव न लड़ने का फैसला किया है क्योंकि उनमें "दम" नहीं है और वह ईरान के साथ हुई "भयानक डील के लिए जिम्मेदार" हैं.

उत्तर कोरिया के साथ चल रहे विवाद में ट्रंप ने उसे भयानक परिणाम भुगतने की चेतवानी दी थी. पिछले दिनों ट्रंप ने एक ट्वीट के जरिए अपने विदेश मंत्री पर भी अविश्वास दिखाया. उत्तर कोरिया के साथ बातचीत के रास्ते तलाश रहे टिलरसन के बारे में उन्होंने लिखा, "वह अपना समय बर्बाद कर रहे हैं." कोर्कर ने कहा कि विदेश मंत्री को ऊपर से वह समर्थन नहीं मिल रहा है जो मिलना चाहिए. उन्होंने विदेश मंत्री टिलरसन, रक्षा मंत्री जेम्स मैटिस और चीफ ऑफ स्टाफ जॉन कैली को ऐसे लोग बताया "जो देश को अव्यवस्था से बचाने के लिए कोशिश कर रहे हैं".

एके/एनआर (एएफपी, एपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री