1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

आपने कीड़ों की ऐसी तस्वीरें देखी हैं?

आम तौर पर लोग कीड़ों को देख कर नाक भौं सिकोड़ते हैं, लेकिन अगर आप लिवॉन बिस की खींची तस्वीरें देखेंगे तो आपको इन कीड़ों से प्यार हो सकता है.

लिवॉन बिस की तस्वीरों में कहीं गोल्ड फॉयल सा दिखने वाला दक्षिण अमेरिकी मक्खी का पंख हैं तो कहीं पत्ता जैसा नजर आने वाला झींगुर का कवच. ये तस्वीरें बहुत अधिक जूम करके ली गई हैं ताकि कीड़ों की खूबसूरती को करीब से निहारा जा सके.

लिवॉन बिस ने कीड़ों की तस्वीरें खींचते हुए दो साल बिताए हैं. इस दौरान वे कीटों के प्रेम में डूब गए. वह बताते हैं, "हैरानी तब हुई जब पता चला कि ये कितने जटिल जीव है, लेकिन उतने ही खूबसूरत भी. आम तौर पर हमारा पूर्वाग्रह है कि ये कितने खराब और डरावने हैं. तभी पता चला कि ऐसा नहीं है. अगर आप देखें तो प्रदर्शनी में एक भी डरावनी तस्वीर नहीं है."

लिवॉन ने अपनी प्रदर्शनी को माइक्रोस्कल्पचर का नाम दिया है. ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी म्यूजियम ऑफ नेचुरल हिस्ट्री के पास ब्रिटेन का दूसरा बड़ा कीट कलेक्शन है. लिवॉन को इसके अर्काइव तक पहुंचने की इजाजत मिली.

कीट विज्ञानी जेम्स होगन ने लिवॉन की मदद की. दोनों कीटों की खूबसूरती को सामने लाना चाहते थे. होगन कहते हैं, "हम ऐसे नमूने चाहते थे जो बहुत ही बड़े न हों क्योंकि ज्यादातर बड़े कीटों की फोटोग्राफी पहले की जा चुकी है. उनकी तस्वीरों से लोग काफी हद तक वाकिफ हैं. ये नमूने ऐसे कीटों पर आधारित हैं जिनके बारे में हमें पता था कि उनकी सतह की बारीकी रोचक और दिलचस्प रंगों वाली है. कुछ ऐसे कीट हैं जो जबरदस्त मैटेलिक कलर वाले हैं, मुझे लगा कि लिवॉन की फोटोग्राफी के बाद वे और भी जबरदस्त लगेंगे."

लिवॉन कीड़ों को अपने स्टूडियो में लेकर गए. और फिर शुरू हुआ माइक्रोफोटोग्राफी का एक्सपेरिमेंट. प्रोफेशनल एडवरटाइजिंग और स्पोर्ट्स फोटोग्राफी कर चुके लिवॉन के लिये भी यह नयी दुनिया थी. कीटों ने फोटोग्राफर का पेशेवर नजरिया भी बदल दिया. लिवॉन बिस कहते हैं, "काम के दौरान मैं हर हिस्से को एक छोटे जीवन के रूप में देखता हूं. हर हिस्से में खास लाइटिंग तकनीक है. इसके जरिये किसी एक हिस्से को खासी खूबसूरती से पेश किया जा सकता है."

लिवॉन अपनी तस्वीरों की प्रदर्शनी दुनिया भर में लगाना चाहते हैं. वे चाहते हैं कि लोग इन तस्वीरों के जरिये कीटों के ज्यादा करीब आए और उनका सम्मान करें.

DW.COM

संबंधित सामग्री