टैटू का इतना आकर्षण क्यों? | ताना बाना | DW | 08.12.2016
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

टैटू का इतना आकर्षण क्यों?

क्या आप भी कभी हैरान होते हैं कि आखिर इतने सारे लोग टैटू क्यों बनवाते हैं. दर्द सहकर शरीर पर चिह्न बनवाने के पीछे क्या मानसिकता काम करती है, जानिए जर्मन मनोचिकित्सक और त्वचा विशेषज्ञ डिर्क होफमाइस्टर से.

 

 

संबंधित सामग्री