1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

शरणार्थियों के घावों को सहलाता एक सीरियाई डॉक्टर

अनुमान है कि जर्मनी आने वाले शरणार्थियों में दस प्रतिशत लोग मानसिक रूप से अस्थिर होते हैं. तबाही और बर्बादी के मंजर उनका पीछा नहीं छोड़ते. बर्लिन में रहने वाले एक सीरियाई मनोविज्ञानी ऐसे लोगों की मदद कर रहे हैं.

वीडियो देखें 03:52

Syrian therapist treats traumatized refugees

कौन सा समंदर कितने शरणार्थियों को खा गया

शरण की तलाश में सब कुछ दांव पर लगा देने वाले बहुत से लोग अक्सर मंजिल पर पहुंचने से पहले ही इस दुनिया को छोड़ देते हैं. पिछले कुछ वर्षों के दौरान कितने प्रवासी मारे गए, कहां मारे गए और उनका संबंध कहां से था, जानिए.

DW.COM

इससे जुड़े ऑडियो, वीडियो

संबंधित सामग्री