कश्मीर के सपने लेने छोड़ दे पाकिस्तान: सुषमा स्वराज | दुनिया | DW | 26.09.2016
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

कश्मीर के सपने लेने छोड़ दे पाकिस्तान: सुषमा स्वराज

सुषमा स्वराज को सोशल मीडिया पर सुषमा गदर स्वराज लिखा जा रहा है. इसकी वजह है कि संयुक्त राष्ट्र आम सभा में भारतीय विदेश मंत्री जमकर गरजी हैं.

भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान और आतंकवाद पर खूब सख्त भाषण दिया है. स्वराज ने कहा कि आतंकवाद इन्सानियत के खिलाफ सबसे घिनौना अपराध है और मासूम लोगों की जानें ले रहा है.

स्वराज ने कई गंभीर सवाल उठाए. मसलन उन्होंने कहा, "आतंकवादियों के पास हथियारों की फैक्ट्री नहीं है. उनके पास कोई बैंक नहीं है जहां से उन्हें धन मिलता है." पाकिस्तान की ओर से भारत में आतंकवाद को बढ़ावा देने के आरोप पर भी सुषमा ने तीखे बोल बोले. उन्होंने कहा कि भारत के अंदर ऐसे आतंकवादी सक्रिय हैं जिन्हें ट्रेनिंग और हथियार मिलते हैं. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग शीशे के घरों में रहते हैं उन्हें दूसरों पर पत्थर नहीं फेंकने चाहिए.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने महासभा में अपने भाषण में कहा था कि दोनों देशों के बीच शांति स्थापित करने के लिए भारत अव्यवहारिक शर्तें लागू कर रहा है. स्वराज ने इस आरोप को खारिज करते हुए कहा कि भारत ने दोनों देशों के बीच संबंध सुधारने की हरसंभव कोशिश की है. उन्होंने कहा कि भारत शर्तें लगा रहा है या पाकिस्तान अशांति फैला रहा है? उन्होंने कहा कि अगर पाकिस्तान को यह गलतफहमी है कि वह इस तरह के कदमों से भारत को अस्थिर कर सकता है तो अपनी भूल सुधार ले. स्वराज ने कहा, "अगर पाकिस्तान को इसी रास्ते पर चलने दिया जाता रहा तो संयुक्त राष्ट्र के लक्ष्य कभी हासिल नहीं किए जा सकेंगे."

देखिए, मोदी सरकार की 10 उपलब्धियां

भारतीय विदेश मंत्री ने कहा कि दुनिया आतंकवाद पर काबू पाने में नाकाम रही है. उन्होंने संयुक्त राष्ट्र से अपील की कि मौजूदा वैश्विक हालात पर सुरक्षा परिषद में एक प्रस्ताव पारित किया जाए. स्वराज ने अपने भाषण का अंत उंगली उठाकर गरजते हुए किया. उन्होंने कहा, "कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और पाकिस्तान को कश्मीर के सपने लेने छोड़ देने चाहिए."

वीके/एके (पीटीआई)

DW.COM

संबंधित सामग्री