1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

बराक ओबामा को गाली देने वाला राष्ट्रपति

फिलीपींस के राष्ट्रपति रोड्रिगो डुटेर्टे ने अमेरिकी राष्ट्रपति को गाली दी. यह उनकी पहली गाली नहीं है. डुटेर्टे पहले भी कई नेताओं को गालियां दे चुके हैं.

फिलीपींस के राष्ट्रपति रोड्रिगो डुटेर्टे ने अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा को गाली दी और बाद में उस पर अफसोस जाहिर किया. फिलीपीनी राष्ट्रपति इस बात को लेकर गुस्सा हैं कि मानवाधिकारों के हनन को लेकर उनके देश की आलोचना हो रही है. लेकिन उस गुस्से में वह बोलते बोलते ओबामा को "सन ऑफ अ बिच" कह गए. वैसे डुटेर्टे की तरफ से इस तरह की बात पहली बार नहीं हुई है. वह कई अंतरराष्ट्रीय नेताओं को लेकर बदजुबानी कर चुके हैं जिनमें यूएन महासचिव भी शामिल हैं.

डुटेर्टे के प्रवक्ता द्वारा पढ़े गए एक बयान में "तीखी टिप्पणी" के लिए अफसोस जाहिर किया गया. बयान में कहा गया कि एक रिपोर्टर के कुछ खास सवालों की वजह से तनाव पैदा हुआ और अमेरिकी राष्ट्रपति पर निजी हमला हो गया.

देखिए, कूल ओबामा की बिंदास तस्वीरें

डुटेर्टे ने यह टिप्पणी सोमवार को लाओस के लिए उड़ान भरने से पहले की थी. लाओस में आसियान देशों की बैठक हो रही है और अमेरिकी राष्ट्रपति भी वहां हैं. लाओस में डुटेर्टे और ओबामा की मुलाकात तय थी लेकिन अमेरिकी राष्ट्रपति ने इस मुलाकात को टालने के संकेत दिए थे. हालांकि मंगलवार को डुटेर्टे ने कहा कि दोनों पक्षों ने सहमति से बैठक को टालने का फैसला किया है. वैसे, डुटेर्टे का अफसोस जाहिर करना माफी मांगना भले ना हो, यह भी असामान्य ही है कि उन्होंने अफसोस जाहिर किया. आमतौर पर वह ऐसा करते नहीं हैं. वह कई बार भद्दी गालियां दे चुके हैं और उनके लिए कभी अफसोस जाहिर नहीं किया. हो सकता है कि आदतन वह इस बार बोल तो गए लेकिन बाद में उन्हें अहसास हुआ कि उन्होंने दुनिया के सबसे ताकतवर आदमी को गाली दी है और इसकी कीमत उन्हें अनुमान से ज्यादा चुकानी पड़ सकती है. फिलीपींस आतंकवाद से जूझ रहा है और उस लड़ाई में उसे अमेरिका के सहयोग की जरूरत है. साथ ही, चीन के बढ़ते दबाव से निपटने के लिए भी उसे अमेरिका का साथ चाहिए.

रिपोर्टरों से बात करते हुए डुटेर्टे ने कहा, "मैं दुनिया के सबसे ताकतवर देश से झगड़ा नहीं करना चाहता." लेकिन इस लाइन के तुरंत बाद उनका लहजा बदल गया और अपने चिरपरिचित तल्ख अंदाज में उन्होंने कहा, "मानवाधिकारों को लेकर आलोचना करने से में वॉशिंगटन बहुत उतावला रहता है. और उसका खुद का क्या? मानवाधिकारों के बारे में उनसे पूछने के लिए मेरे पास इतने सारे सवाल हैं. जिनके घर शीशे के होते हैं वे दूसरों पर पत्थर नहीं फेंका करते." उन्होंने कहा कि अगर अमेरिकी प्रशासन को उनसे दिक्कत थी तो कूटनीतिक तरीके से टिप्पणी भेज सकते थे और मैं उसका जवाब देता. उन्होंने गुस्से में कहा, "एक तरीका होता है. आप ऐसे किसी देश के राष्ट्रपति के खिलाफ बयान जारी नहीं कर सकते."

देखिए, ड्रग्स के खिलाफ जंग में क्या कर रहा है फिलीपीन्स

दरअसल बात तब शुरू हुई जब एक रिपोर्टर ने उनसे नशीली दवाओं के तस्करों पर सवाल पूछा. डुटेर्टे ने तस्करों के खिलाफ जंग छेड़ रखी है और अब तक 2,000 लोगों को कत्ल किया जा चुका है. तो रिपोर्टर ने पूछा कि उनके देश में ड्रग तस्करों की हत्याओं पर ओबामा को वह क्या जवाब देंगे. इस पर फिलीपीनी राष्ट्रपति चिढ़ गए और उन्होंने कहा, "मैं एक संप्रभु देश का राष्ट्रपति हूं. और हम बहुत पहले आजाद हो चुके हैं. फिलीपीनो लोगों के अलावा मेरा कोई मालिक नहीं है. कोई नहीं मतलब कोई नहीं. आपको सम्मान करना चाहिए. ऐसे सवाल मत फेंकिए. पुतंग ईना (कुतिया के बच्चे) मैं उसी फोरम में तुम्हें गाली दूंगा." ओबामा के बारे में उन्होंने कहा कि वह मुझसे सवाल करने वाले होते कौन हैं.

बाद में मंगलवार को जारी बयान में डुटेर्टे ने यूटर्न लिया. उनके बयान में कहा गया, "हम अपने मतभेद दूर करने की उम्मीद कर रहे हैं और उम्मीद है कि हम जिम्मेदार देशों के रूप में काम करेंगे."

डुटेर्टे पोप फ्रांसिस और यूएन महासचिव बान की-मून को भी गाली दे चुके हैं.

हमें Facebook पर लाइक करें ताकि दुनिया की सबसे दिलचस्प खबरों से चूक न जाएं

DW.COM

संबंधित सामग्री