1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

'रईस' पर बैन लगाने से खुश नहीं है ये पाकिस्तानी

पाकिस्तान में शाहरुख खान की फिल्म 'रईस' को बैन किए जाने का विरोध हो रहा है. भारतीय फिल्मों को पसंद करने वाले पाकिस्तानी लोग इस बैन से बहुत दुखी हैं.

बॉलीवुड स्टार शाहरुख खान पाकिस्तान में बहुत लोकप्रिय हैं. इसके अलावा 'रईस' में उनके साथ काम करने वाली माहिरा खान भी पाकिस्तान से हैं. लेकिन पाकिस्तान में इस फिल्म को यह कह प्रतिबंधित किया गया है कि इसमें मुसलामनों की गलत छवि पेश की गई है. पाकिस्तानी सेंसर बोर्ड के प्रमुख मुबहसर हसन कहते हैं, "फिल्म मुसलमानों को आतंकवादी और हिंसक लोगों की तरह पेश करती है."

एक अन्य अधिकारी ने कहा कि फिल्म में हिंदू और मुसलमानों की जिस तरह तुलना की गई है, वह ठीक नहीं है. नाम न जाहिर करने की शर्त पर इस अधिकारी ने कहा, "यह फिल्म संदेश देती है कि सारे मुसलमान गलत काम करते हैं और वे अपराधों में लिप्त हैं जबकि हिंदू सज्जन होते हैं और वे मुसलमानों को गलत काम करने से रोकते हैं."

ये हैं भारत की सबसे कमाऊ फिल्में

लेकिन पाकिस्तानी फिल्म प्रेमी इन चिंताओं को खारिज करते हैं. पाकिस्तानी फिल्मकार और पत्रकार हसन जैदी ने ट्वीट किया, "रईस पर बैन इस बात की मिसाल है कि पाकिस्तान में नैतिकता के झंडाबरदार किस हद तक बेतुकी बात कर सकते हैं."

वहीं लेखक राजी एस पाशा ने लिखा, "रईस पर बैन लगाना माहिरा पर बैन लगाना है जिसने बॉलीवुड में अपनी सिर्फ शुरुआत की है. पाकिस्तानी सेंसर बोर्ड माहिरा से इतनी नफरत क्यों करता है?"

हालांकि कुछ लोगों ने सेंसर बोर्ड का समर्थन भी किया है. एक वकील और यूनिवर्सिटी प्रोफेसर यासमीन अली ने लिखा, "मैं रईस पर बैन लगाने का स्वागत करता हूं क्योंकि इसमें दिखाया गया है कि मुसलमान अपराधों में शामिल हैं और वे आतंकवादी हैं."

विदेशी धरती पर देसी हीरो का जलवा, देखिए

पिछले साल दोनों देशों के बीच तनाव के कारण पाकिस्तान में भारतीय फिल्मों पर प्रतिबंध लगा दिया गया था. हाल ही में इस प्रतिबंध को हटाया गया है. लेकिन पाकिस्तानी अधिकारियों का कहना है कि सिर्फ उन्हीं फिल्मों को पाकिस्तान में रिलीज करने की अनुमति होगी जिनमें पाकिस्तान को लेकर आपत्तिजनक बातें नहीं कही गई हैं. उनके मुताबिक 'काबिल' और 'ए दिल है मुश्किल' जैसी फिल्में पाकिस्तानी में दिखाई जा सकती हैं.

एके/वीके (एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री