1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

आत्मघाती समझ कर रेहड़ी वाले को मार लिया

पाकिस्तानी अधिकारियों का कहना है कि पुलिस ने सामान बेचने वाले एक व्यक्ति को आत्मघाती हमलावर समझ कर गोली मार दी जिससे उसकी मौत हो गई.

यह मामला खैबर पख्तूनखवाह प्रांत के मरदान शहर का है. पुलिस अधिकारी मुमताज खान ने बताया कि वह व्यक्ति साइकिल पर सवार था और अदालत के बाहर बनी एक चेकपोस्ट पर नहीं रुका. उनके मुताबिक, पुलिसवालों ने चिल्लाकर उससे रुकने को कहा, लेकिन उसने कोई ध्यान नहीं दिया. इसके बाद पुलिस ने एक गाड़ी से उसकी साइकल को टक्कर मारी. जब उसने वहां से भागने की कोशिश की तो पुलिस ने गोली चला दी. खान ने बताया कि उसकी मौके पर ही मौत हो गई और उसके पास से कोई विस्फोटक या हथियार बरामद नहीं हुए.

चेकप्वाइंट पर मौजूद एक अन्य पुलिस अधिकारी जेब बख्तियार ने कहा, "पता नहीं कि वह क्यों लगातार आगे बढ़ता रहा जबकि हम चिल्ला चिल्ला कर उससे रुकने को कह रहे थे." पाकिस्तान में हाल में हुए कई बम धमाकों के बाद पुलिस सतर्क है. देश के अलग अलग हिस्सों में हुए इन विस्फोटों में 125 से ज्यादा लोग मारे गए. पाकिस्तानी तालिबान और इस्लामिक स्टेट ने इन आतंकवादी हमलों की जिम्मेदारी ली है.

अफगानिस्तान से लगने वाले पाकिस्तान के कबायली इलाकों से तालिबान, उनसे जुड़े स्थानीय चरमपंथी गुट और अल कायदा से संबंधित विदेशी चरमपंथी अपनी गतिविधियों चलाते हैं. वहां एक बड़े इलाके में स्थानीय कबायली नियम कायदे चलते हैं. वहां न तो पुलिस की पहुंच है और न ही प्रशासनिक अधिकारियों की.

पाकिस्तान सरकार ने गुरुवार को ऐसे कई सुधारों को मंजूरी दी जिनके तहत कबायली इलाके सरकार के नियंत्रण में आएंगे. प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के एक सहयोगी ने यह जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि कबायली इलाकों का पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वाह में विलय होने के बाद अगले पांच साल के दौरान इन सुधारों को लागू किया जाएगा. यह सब बातें उन्होंने नाम न जाहिर करने की शर्त पर बताई क्योंकि इस बारे में सार्वजनिक घोषणा होने से पहले उन्हें इस बारे में बोलने का अधिकार नहीं है.

एके/एमजे (एपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री