1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

पाकिस्तान में महिला के हाथ मरे 17 लोग

पाकिस्तान में एक नव विवाहित महिला की अपने पति की जान लेने की योजना इतनी खराब हुई कि परिवार के 17 सदस्यों की जान चली गयी.

पाकिस्तान में पुलिस ने एक नव विवाहित महिला को गिरफ्तार किया है. जांच में महिला ने कबूला है कि उसने अपने पति को मारने की योजना बनाई थी. पुलिस ने महिला की पहचान सुरक्षित रखी है. स्थानीय पुलिस अधिकारी सोहेल हबीब तजाक ने बताया है कि महिला की हाल ही में शादी हुई थी और यह उसकी मर्जी के खिलाफ की गयी थी. महिला का एक प्रेमी है, जो शादी के बाद भी उससे मिलता रहा और उसने ही पति के कत्ल की साजिश रची. प्रेमी ने दूध में मिलाने के लिये जहर ला कर दिया. महिला ने ऐसा किया भी लेकिन उसके पति ने दूध पीने से इंकार कर दिया. बाद में जब महिला की सास ने भरे दूध का ग्लास देखा तो परिवार के लिए लस्सी बनाने के लिए उसका इस्तेमाल किया. इसे पीने के बाद 27 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा, जिनमें से 17 लोगों की वहां मौत हो गयी.

हबीब ने समाचार एजेंसी एएफपी को बताया, "यह मामला पिछले हफ्ते का है. हमने महिला और उसके प्रेमी को हत्या के सिलसिले में गिरफ्तार कर लिया है. यह मामला हमारे लिए काफी पेचीदा था." मामला पंजाब के एक छोटे से गांव का है. अलीपुर नाम का यह गांव मुल्तान से करीब 100 किलोमीटर दूर स्थित है. महिला की शादी सितंबर में हुई थी. पुलिस के अनुसार वह अपने ससुराल में खुश नहीं थी और अपने माता पिता के घर लौटना चाहती थी.

मामला पाकिस्तान के टीवी चैनलों तक पहुंच गया है. रविवार को जब महिला को मुजफ्फरनगर की अदालत में जज के सामने पेश किया गया, तो वहां मीडिया भी पहुंची. महिला ने रिपोर्टरों को बताया कि वह जबरन विवाह के कारण नाराज थी, "मैंने अपने मां बाप से बार बार कहा कि मेरी मर्जी के खिलाफ मेरी शादी ना करें, मैंने यह भी कहा कि मेरा धर्म, इस्लाम भी मुझे इस बात की इजाजत देता है कि मैं अपनी मर्जी से अपना साथी चुन सकूं लेकिन उन्होंने मेरी एक नहीं सुनी और एक रिश्तेदार से मेरी शादी करा दी."

महिला का कहना है कि उसने अपने घर वालों को इस बात की चेतावनी दी थी कि इस शादी से बाहर निकलने के लिए वह किसी भी हद तक जा सकती है लेकिन उन्होंने फिर भी तलाक नहीं कराया. उसने यह भी कहा कि उसे परिवार के लोगों की मौत का अफसोस है, उसका निशाना केवल उसका पति था.

पाकिस्तान में जबरन शादी और इज्जत के नाम पर लड़कियों की हत्या आम है. आंकड़े बताते हैं कि वहां सालाना 1,000 लडकियां ऑनर किलिंग के कारण अपनी जान गंवाती हैं.

आईबी/ओएसजे (एपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री