1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

जैश ए मोहम्मद चीफ मसूद अजहर समेत 5100 खाते सील

आतंकवादियों पर कार्रवाई करते हुए पाकिस्तानी अधिकारियों ने पांच हजार से ज्यादा बैंक खाते सील कर दिए हैं.

सील किए गए खातों में जैश ए मोहम्मद प्रमुख मसूद अजहर का खाता भी है, जिसे भारत पठानकोट सहित कई शहरों में हुए आतंकवादी हमलों के लिए जिम्मेदार बताता है. पठानकोट हमले के बाद से अजहर हिरासत में है.

स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक कुल 5100 खाते सील किए गए हैं. ये सभी खाते संदिग्ध आतंकवादियों के हैं. पूरी प्रक्रिया में शामिल इस अधिकारी ने बताया, "गृह मंत्रालय से अनुरोध आया था जिसके बाद हमने मसूद अजहर वल्द अल्लाबख्श समेत सभी संदिग्ध आतंकवादियों के खाते सील कर दिए हैं."

Moulana Masood Azhar (picture-alliance / dpa)

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक गृह मंत्रालय ने तीन अलग अलग सूचियां भेजी थीं जिनमें हजारों संदिग्धों के नाम थे. कई बड़े आतंकी संगठनों के प्रमुखों के नाम भी इनमें शामिल थे. स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान ने लगभग 1200 संदिग्धों के खाते सील किए हैं जिनके नाम 1997 के एंटी टेररजिम एक्ट की कैटिगरी ए में शामिल थे. ए कैटिगरी में उन लोगों को रखा जाता है जिनसे बहुत ज्यादा खतरे का अंदेशा होता है. गृह मंत्रालय के अधिकारियों के मुताबिक मसूद अजहर भी इसमें शामिल हैं. एक अखबार ने अधिकारियों के हवाले से लिखा है, "अजहर का नाम ए कैटिगरी की चौथी सूची में शामिल है. पठानकोट एयरबेस पर हमले के बाद जब जैश ए मोहम्मद चीफ को हिरासत में लिया गया था तभी उसका नाम ए कैटिगरी में डाल दिया गया था." इसी साल जनवरी में पठानकोट एयरबेस पर आतंकवादियों ने हमला किया था जिसके बाद भारत ने फरवरी में संयुक्त राष्ट्र को पत्र लिखकर अपील की थी कि यूएन की प्रतिबंध समिति मसूद अजहर पर तुरत कार्रवाई करे.

तस्वीरों में: सबसे खतरनाक देश

पाकिस्तान की नेशनल काउंटरटेररिजम अथॉरिटी ने इसी महीने की शुरुआत में ही स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान को लगभग 5500 नाम भेजे थे. अथॉरिटी के अधिकारी इशान गनी ने बताया, "इन खातों में लगभग 40 करोड़ रुपए हैं." हालांकि उन्होंने यह नहीं बताया कि अजहर के खाते में कितने पैसे हैं.

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, "3078 खाते खैबर पख्तूनख्वा और फाटा इलाके में सक्रिय संदिग्धों के हैं. पंजाब से 1443, सिंध से 226, बलूचिस्तान से 193 और गिलगित-बल्तिस्तान से 106 संदिग्ध हैं. राजधानी इस्लामाबाद से भी 27 खाते हैं." 26 खाते पाकिस्तानी कश्मीर के लोगों के हैं.

वीके/एके (पीटीआई)

DW.COM

संबंधित सामग्री