1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

18वें जन्मदिन पर युवाओँ को कल्चर बोनस देगा इटली

इटली की सरकार हर युवा को उसके 18वें जन्मदिन पर 500 यूरो का बोनस देगी. इसका इस्तेमाल किताबें, कॉन्सर्ट, थिएटर, सिनेमा या म्यूजियम की टिकटें खरीदने के लिए या फिर किसी नेशनल पार्क की यात्रा के लिए किया जा सकता है.

इटली की सरकार ने एक अनोखी योजना शुरू की है. युवाओं को उनके 18वें जन्मदिन पर कुछ धन दिया जाएगा. यह धन सरकार की ओर से तोहफा होगा जिसके जरिये युवाओं को संस्कृति और समाज के और करीब लाने की कोशिश होगी.

सितंबर महीने से शुरू हो रही इस योजना के तहत हर युवा को उसके 18वें जन्मदिन पर 500 यूरो यानी भारत के हिसाब से लगभग 35 हजार रुपये का एक वाउचर मिलता है. इस वाउचर को कल्चर बोनस नाम दिया गया है. इसका इस्तेमाल किताबें, कॉन्सर्ट, थिएटर, सिनेमा या म्यूजियम की टिकटें खरीदने के लिए या फिर किसी नेशनल पार्क की यात्रा के लिए किया जा सकता है.

देखिए, जासूसी उपन्यासों की असली जगहें

इस योजना से पांच लाख 75 हजार युवाओं को फायदा होगा. और सरकार पर 29 करोड़ यूरो का बोझ पड़ेगा. लेकिन संसदीय अवर सचिव टोमास नानिचिनी का मानना है कि बोझ नहीं है, यह तो सही जगह पर सही निवेश है. उन्होंने कोरिएर अखबार से कहा, "यह पहल युवओं में एक सीधा संदेश देती है कि जब वे उम्र की एक दहलीज पार करके वयस्क समाज में प्रवेश कर रहे होते हैं तो वह समाज उनका स्वागत करना चाहता है, जिसका वे हिस्सा हैं."

इस योजना का ऐलान तो 10 महीने पहले ही हो गया था लेकिन इसे लागू करने में वक्त लगा. एक सरकारी अधिकारी ने बताया कि अब सब कुछ लगभग तैयार है. इस बारे में इतालवी अखबार कोरिएर ने खबर छापी है. इस खबर की पुष्टि करते हुए अधिकारी ने बताया कि 15 सितंबर से योजना की औपचारिक शुरुआत हो जाएगी, हालांकि एक-दो दिन इधर-उधर हो सकते हैं.

तस्वीरों में, बेड़ियों से मुक्त होती किताबें

नानिचिनी कहते हैं कि यह तोहफा युवाओं को संस्क़ृति से जोड़ने का जरिया है. उनके शब्दों में, "यह तोहफा उन्हें याद दिलाता है कि संस्कृति को ग्रहण करना कितना जरूरी है, सिर्फ इसलिए नहीं कि इससे उनके व्यक्तित्व का विकास होता है, बल्कि इसलिए भी कि इससे समाज का तानाबाना मजबूत होता है."

यह फंड युवाओं को मिलेगा एक ऐप के जरिए. कल्चर बोनस के लिए एक 18ऐप नाम का एक मोबाइल एप्लिकेशन बनाया गया है जिसके जरिए वाउचर को युवा अपने फोन पर ही डाउनलोड कर सकेंगे. उसके बाद इसका इस्तेमाल ऑनलाइन भी हो सकेगा और अगर कोई स्टोर पर इसे प्रयोग करना चाहे तो वह भी संभव होगा. यह धन सिर्फ इतालवी नागरिकों को नहीं मिलेगा, वे विदेशी युवा भी इसके हकदार होंगे जिनके पास इतालवी रिहायश के वैध कागजात होंगे.

तस्वीरें: युद्ध और बच्चों की किताबें

प्रधानमंत्री मातेओ रेन्सी ने इस योजना का ऐलान पिछले साल नवंबर में किया था. इसके पीछे उनका मकसद आतंकवाद से लड़ना भी है. तब उन्होंने कहा था, "सुरक्षा पर खर्च किए गए हर अतिरिक्त यूरो के लिए संस्कृति में भी एक अतिरिक्त यूरो का निवेश होना चाहिए."

सरकार ऐसी ही एक योजना शिक्षकों के लिए भी बना रही है. अगले साल ऐसी योजना शुरू हो सकती है जिसके तहत शिक्षकों को 500 यूरो का एक पैकेज मिलेगा जिसे वे इसी तरह के चीजों पर खर्च कर सकेंगे.

क्या आपने DW ऐप डाउनलोड किया है? नहीं, तो अभी करें और हिंदी भाषा चुनें

DW.COM