1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

कश्मीर में जो रहा है, भारत ही जिम्मेदार: पाकिस्तान

भारतीय कश्मीर के उड़ी में हमले के बाद पाकिस्तान ने अपने ऊपर लगाए गए भारत के आरोपों को खारिज किया है. पाकिस्तान का कहना है कि जो कश्मीर में हो रहा है, उसके लिए भारत ही जिम्मेदार है.

उड़ी में रविवार तड़के सेना के एक बेस पर हमले में भारत के 17 सैनिक मारे गए. इस हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव एक नए स्तर पर पहुंच गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे "कायरतापूर्ण आतंकवादी हमला" बताते हुए कहा है कि जो लोग इसके लिए जिम्मेदार है वो बख्शे नहीं जाएंगे.

वहीं भारतीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, "पाकिस्तान एक आतंकवादी राष्ट्र है और उसे इसी तरह पहचाना जाना चाहिए और अलग थलग किया जाना चाहिए." एक ट्वीट में राजनाथ ने लिखा, "मैं बहुत ही निराश हूं कि पाकिस्तान आतंकवाद और आतंवादियों को लगातार प्रत्यक्ष समर्थन दे रहा है."

लेकिन पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नफीस जकारिया ने इन आरोपों को खारिज किया है. उन्होंने कहा, "भारत बिना किसी जांच के एक दम पाकिस्तान पर दोष मढ़ देता है. हम इसे पूरी तरह खारिज करते हैं." पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने उड़ी हमले को लेकर अपनी वेबसाइट पर एक बयान भी जारी किया है.

इसके मुताबिक, भारतीय कश्मीर के "जो हालात हैं, वो पाकिस्तान ने तैयार नहीं किए हैं बल्कि भारत ने जो वहां जुल्म किए हैं वो उन्हीं का नतीजा है." पाकिस्तान ने कश्मीर में हाल के दिनों में हुई सौ से ज्यादा लोगों की मौतों का जिक्र करते हुए कहा है कि अब तो अंतरराष्ट्रीय समुदाय की आंखें खुलनी चाहिए. कश्मीर में 8 जुलाई को चरमपंथी बुरहान वानी की मौत के बाद कश्मीर में बड़े प्रदर्शन हुए और इन दोनों सुरक्षा बलों की कार्रवाई में ये मौतें हुई हैं.

देखिए, वे विवाद जो टाइम बम की तरह हैं, दुनिया के लिए

भारत के सैन्य अधिकारियों का कहना है कि उड़ी में हमला करने वाले चरमपंथी पाकिस्तानी कश्मीर से आए थे. सैन्य अभियान के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने कहा, "जो चार आतंकवादी मारे गए हैं वे विदेशी थे" और शुरुआती जांच से पता चलता है कि वो जैश-ए-मोहम्मद के थे. सिंह ने कहा कि इन लोगों के पास ऐसी कुछ चीजें थीं जिन पर पाकिस्तान का नाम लिखा था. उन्होंने बताया कि पाकिस्तानी अधिकारियों के साथ बातचीत में उन्होंने इस बात का जिक्र किया है. वहीं पाकिस्तान सेना ने एक बयान में इस तरह के आरोपों को बेबुनियाद कहा है.

उधर अमरीका ने भी उड़ी हमले की कड़ी निंदा की है. अमरीकी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता जॉन किरबी ने कहा, "आतकवाद से लड़ने के मामले में अमेरिका भारत सरकार के साथ अपनी साझेदारी को लेकर वचनबद्ध है."

तस्वीरों में, सुंदरता और संघर्ष का नाम कश्मीर

एके/वीके (एएफपी, पीटीआई, रॉयटर्स)

DW.COM

संबंधित सामग्री