1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

भारतीय सैनिकों के शव क्षत विक्षत, पाकिस्तान का इनकार

भारतीय सेना ने पाकिस्तानी सैनिकों पर अपने दो सैनिकों को मारने और फिर उनके शवों को क्षत विक्षत करने का आरोप लगाया है.

भारतीय सेना के मुताबिक ये सैनिक नियंत्रण रेखा के पास गश्त कर रहे थे. दूसरी तरफ, पाकिस्तानी सेना ने भारतीय सेना के आरोपों से इनकार किया है. उसका कहना है कि नियंत्रण रेखा के पास संघर्ष विराम के उल्लंघन की कोई घटना नहीं हुई है और उसके सैनिकों ने भारतीय सैनिकों के शवों के साथ किसी तरह की बदसलूकी नहीं की है.

अपने सैनिकों के शवों को क्षत विक्षत करने के आरोप भारत ने पहले भी कई बार पाकिस्तान पर लगाये हैं, जिससे न सिर्फ दोनों देशों की सरकार के बीच तनाव को बढ़ावा मिलता है, बल्कि जनता में भी एक दूसरे के लिए नफरत फैलती है.

भारतीय सेना का कहना है कि कृष्णा घाटी सेक्टर में पाकिस्तानी बलों ने नियंत्रण रेखा पर स्थित भारतीय पोस्ट पर रॉकेट दागे और मोर्टार बम गिराये. पाकिस्तानी बलों की तरफ इशारा करते हुए सेना ने एक बयान में कहा, "सैन्य मूल्यों के विपरीत पाकिस्तानी सेना ने गश्त कर रहे हमारे दो सैनिकों के शवों को क्षत विक्षत किया है. इस तरह की घिनौनी हरकत का उचित तरीके से जवाब दिया जाएगा."

भारतीय मीडिया की खबरों में मारे गए सैनिकों के नाम नायब सूबेदार परमजीत सिंह और हेड कांस्टेबल प्रेम सागर बताये गये हैं. इंडियन एक्सप्रेस अखबार के मुताबिक इस घटना के बाद भारतीय सेना प्रमुख बिपिन रावत श्रीनगर पहुंच गये हैं. वहीं दिल्ली में गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सुरक्षा अधिकारियों से बात की है और उन्हें जम्मू कश्मीर में सीमावर्ती इलाकों की सुरक्षा के बारे में जानकारी दी गयी है.

इस बीच, पाकिस्तानी सेना ने भारत के आरोपों को पूरी तरह गलत बताया है. उसने खुद को "उच्च पेशेवर" बताते हुए कहा है कि वह कभी किसी सैनिक के साथ "बदसलूकी नहीं करेगी", भले ही वे भारत के ही क्यों न हों.

एके/आरपी (रॉयटर्स, डीपीए)

DW.COM

संबंधित सामग्री