1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

भारत-पाक दुश्मनी जीतेगी या सारा-पूर्वी की दोस्ती?

भारत और पाकिस्तान के संबंधों के बीच दोस्ती एक बार फिर पिस रही है. हालांकि इस बार इस दोस्ती के समर्थन में सोशल मीडिया खड़ा हो गया है.

भारत की एक लड़की ने अधिकारियों से दरख्वास्त की है कि उसकी शादी के लिए उसकी एक पाकिस्तानी दोस्त को वीसा दिया जाए. यह दोस्त पाकिस्तान से है और दोनों मुल्कों के बीच संबंधों में बर्फ ऐसी जमी पड़ी है कि दोनों अपने दूतावासों से अपने अपने अधिकारियों को भी वापस बुला रहे हैं. अपनी जिंदगी के सबसे अहम दिन पर अपनी दोस्त की मौजूदगी चाहने वाली इस लड़की की अपील सोशल मीडिया पर खूब शेयर की जा रही है.

यह होने वाली दुल्हन है पूर्वी ठक्कर. ठक्कर अमेरिका में बसी पत्रकार हैं. उनकी शादी दिसंबर में मुंबई में होनी है. वह चाहती हैं कि उनकी सबसे अच्छी दोस्त सारा मुनीर शादी के दिन उनके साथ हों. लेकिन भारतीय अधिकारियों ने मुनीर की वीसा अर्जी खारिज कर दी है. इस बारे में ठक्कर ने ब्लॉग लिखा है. वह लिखती हैं, "युद्ध, धर्म, इतिहास, राष्ट्रीय और यहां तक कि क्रिकेट मैच भी कभी हमारी दोस्ती के बीच नहीं आए. मुनीर की वीसा अर्जी खारिज होने से पहले हमें इस बात का कभी ख्याल नहीं आया कि नफरत और डर की राजनीति हम जैसे सामान्य लोगों के बीच भी भेद कर सकती है." ठक्कर लिखती हैं कि हम बस सीमा के अलग-अलग तरफ पैदा हुए हैं, इसलिए हम दोस्त होते हुए भी एक दूसरे का साथ नहीं दे सकें, ऐसा तो नहीं होना चाहिए.

देखिए, ऐसी है LOC

भारत और पाकिस्तान के बीच फिलहाल संबंध काफी खराब हैं. भारत ने पाकिस्तान से अपने आठ राजनयिक वापस बुला लिए हैं क्योंकि उनकी पहचान सार्वजनिक हो गई थी. भारतीय विदेश मंत्रालय ने एनडीटीवी को जानकारी दी है कि इन राजनयिकों के नाम और फोटो स्थानीय मीडिया में सार्वजनिक हो गए जिसके बाद उन्हें वापस बुलाने का फैसला किया गया. इसके एक ही दिन पहले पाकिस्तान ने अपने छह राजनयिकों को दिल्ली से वापस बुला लिया था. इस कार्रवाई के बाद तनाव हाल के दिनों में चरम पर पहुंच गया है.

तस्वीरों में: दिलों को बांटती दीवारें

हालांकि मुनीर पहले भी दो बार भारत आ चुकी हैं लेकिन इस बार उन्हें वीसा नहीं दिया गया है. हाल ही में आतंकवादियों के एक हमले में 19 भारतीय सैनिकों के मारे जाने के बाद से तनाव बहुत ज्यादा है जिस वजह से मुनीर का वीसा खारिज हुआ. मुनीर की सहेली पूर्वी ठक्कर ने उन्हें वीसा दिलाने के लिए सोशल मीडिया पर एक मुहिम छेड़ दी है. #GetSarahtoIndia से चल रही इस मुहिम पर हजारों शेयर हो चुके हैं. इस बारे में भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को भी टैग किया गया है. पूर्व विदेश राज्य मंत्री और कांग्रेस नेता शशि थरूर ने भी इस बारे में ट्वीट किया है कि उन्हें सुषमा स्वराज के जवाब का इंतजार है.

पूर्वी और सारा की मुलाकात 2011 में न्यूयॉर्क में हुई थी. तब से दोनों की दोस्ती बनी हुई है. ठक्कर को उम्मीद है कि प्यार नफरत पर जीत पा ही लेगा.

वीके/एमजे (एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री