1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

नोटबंदी के बाद कश्मीर में बैंक लूट रहे हैं आतंकवादी

गुरुवार को आतंकवादियों ने कश्मीर में एक और बैंक लूट लिया. इस बैंक के पास 11 लाख रुपये का कैश था, जिसे हथियारबंद आतंकवादी लूटकर ले गए.

जब से नोटबंदी का फैसला आया है, उसके बाद आतंकवादियों द्वारा बैंक लूटने की यह तीसरी घटना है.

पुलिस ने बताया कि पुलवामा जिले में हथियारबंद आतंकवादियों ने जम्मू और कश्मीर बैंक की रंतिपुरा ब्रांच पर धावा बोला. पुलिस यह नहीं बता सकी कि इस घटना में कितने लोग शामिल थे. लुटेरे 11 लाख रुपये लूटकर ले गए. इनमें एक हजार और 500 रुपये के पुराने नोट के 16 हजार रुपये भी थे. घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस बैंक में पहुंची लेकिन पुलिस के मुताबिक स्थानीय लोगों ने सुरक्षाकर्मियों पर पथराव किया.

देखिए, ये हैं दुनिया के 10 सबसे कैशलेस देश

8 नवंबर के बाद यह तीसरी बैंक डकैती है. 8 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऐलान किया था कि 500 और 1000 रुपये के नोट बंद किए जा रहे हैं. यह नोटबंदी उसी रात से लागू हो गई थी. उसके बाद 21 नवंबर को बडगाम जिले के चरार ए शरीफ इलाके में एक बैंक में डकैती हुई. संदेह है कि डकैती करने वाले आतंकवादी थे. वे लोग 13 लाख रुपये का कैश लूटकर ले गए. 8 दिसंबर को भी एक बैंक को लूटा गया. पुलवामा जिले में जम्मू एंड कश्मीर बैंक की अरिहाल ब्रांच को लूट लिया गया. तब आतंकवादियों ने गोलियां भी चलाईं और कैश लूटकर फरार हो गए. इस डकैती में लगभग 10 लाख रुपये लूटे गए थे.

ये हैं दुनिया के 10 सबसे महंगे नोट

प्रधानमंत्री मोदी ने जब नोटबंदी का ऐलान किया था, तब उन्होंने इसकी जो वजह बताई थीं, उनमें से एक आतंकवादियों पर लगाम भी थी. प्रधानमंत्री ने कहा था कि आतंकवादियों को फंडिंग पर रोक लगाने के लिए भी नोटबंदी का यह कदम उठाया जा रहा है.

वीके/एके (पीटीआई)

DW.COM

संबंधित सामग्री